X close
X close
Indibet

'मुझे सब याद आया, मैं यहीं से स्ट्रेचर में बाहर गया था', हार्दिक बोले- आज 10 प्लेयर भी खड़े होते तो भी मारता छक्का

हार्दिक पांड्या ने भारत-पाकिस्तान मुकाबले के बाद साल 2018 एशिया कप में खेले गए उस मुकाबले को भी याद किया जिसमें वह स्ट्रेचर पर लेटकर मैदान के बाहर गए थे।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat August 29, 2022 • 13:08 PM

भारत ने रविवार को हार्दिक पांड्या के ऑलराउंड प्रदर्शन के दम पर पाकिस्तान को 5 विकेट से हराया और पिछले साल टी-20 वर्ल्ड कप में मिली शर्मनाक हार का बदला पूरा किया। इस मैच में हार्दिक बैटिंग और बॉलिंग दोनों से ही मैदान पर छाए। हार्दिक ही वही खिलाड़ी थे जिन्होंने लास्ट ओवर की चौथी गेंद पर छक्का जड़कर टीम को जीत दिलवाई, लेकिन मुकाबले के बाद स्टार ऑलराउंडर ने अपने कठिन समय को याद किया है।

जी हां, हार्दिक पांड्या ने साल 2018 में खेले गए एशिया कप को याद किया जिसमें पाकिस्तान के खिलाफ गेंदबाज़ी करते हुए वह चोटिल हो गए थे और फिर उन्हें स्ट्रेचर पर लेटकर मैदान से बाहर जाना पड़ा था। हार्दिक ने रविंद्र जडेजा से बातचीत करते हुए अपने मन की बात कही।

Trending


हार्दिक से रविंद्र जडेजा ने सवाल करते हुए पूछा- साल 2018 एशिया कप में तुम्हें बैक इशू हुआ था। वहां से लेकर यहां तक अपना सफर बताइए। साथी खिलाड़ी के सवाल पर हार्दिक ने उत्साह से जवाब दिया। वह बोले, 'मुझे सब याद आ रहा था, मैं यहीं से स्ट्रेचर में बाहर गया था। वो ही ड्रेसिंग रूम था। मुझे अब एक सेंस ऑफ अचीवमेंट महसूस होता है। क्योंकि जैसे भी चीजें हुई, उसके बाद मुझे आज मौक मिला। मेरी जर्नी काफी सुंदर है।'

इस दौरान स्टार ऑलराउंडर ने साथी खिलाड़ी से बातचीत करते हुए यह भी साफ किया कि हाई प्रेशर गेम में आखिरी ओवर में बचे 7 रन उन्हें ज्यादा नहीं लग रहे थे। हार्दिक ने भरोसे से कहा कि अगर पाकिस्तान के 5 क्या, 10 खिलाड़ी भी खड़े होते तो मैं छक्का ही मारता।

Also Read: Asia Cup 2022 Scorecard

बता दें कि इस मैच में हार्दिक पांड्या(33) और रविंद्र जडेजा(35) के बीच पांचवें विकेट के लिए 52 रनों की महत्वपूर्ण साझेदारी हुई थी, जिसके दम पर भारत ने पाकिस्तान से गेम काफी दूर कर दिया। हार्दिक पांड्या ने गेंदबाज़ी करते हुए पाकिस्तान के दो विकेट भी चटकाए थे।


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now