X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

IPL-13: साउथ अफ्रीकी क्रिकेटर्स को चार्टड प्लेन से सीधा यूएई ले जाने को तैयार टीमें,ये है वजह

By Saurabh Sharma Jul 31, 2020 • 17:33 PM

नई दिल्ली, 31 जुलाई| साउथ अफ्रीका के अब्राहम डिविलियर्स (रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर), कागिसो रबाडा (दिल्ली कैपिटल्स), फाफ डु प्लेसिस (चेन्नई सपुर किंग्स), क्विंटन डी कॉक (मुंबई इंडियंस) इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के बड़े नाम हैं, लेकिन इस समय साउथ अफ्रीका में बढ़ते कोरोनावायरस मामलों के कारण यातायात पर पाबंदियां हैं, ऐसे में आईपीएल टीमें अपने-अपने खिलाड़ियों को वहां से सीधे यूएई चार्टड प्लेन में लाने को तैयार हैं।

एक फ्रेंचाइजी के अधिकारी ने आईएएनएस से कहा कि यह वो विचार है जिस पर अनाधिकारिक रूप से चर्चा की गई है और अंतिम फैसला रविवार को होने वाली आईपीएल की गवर्निग काउंसिल की बैठक के बाद ही लिया जाएगा और इसके बाद ही फ्रेंचाइजियों को 13वें संस्करण की आगे की रणनीति के बारे में पता चलेगा।

अधिकारी ने कहा, "हम जानते हैं कि साउथ अफ्रीकी खिलाड़ी फंसे हुऐ हैं और हम रविवार को होने वाली आईपीएल जीसी की बैठक के बाद हम उन पर फैसला लेंगे। अनाधिकारिक तौर पर हमारी चर्चा हुई है और यह एक या दो फ्रेंचाइजी तक ही सीमित नहीं है। लगभग सभी फ्रेंचाइजियों के शीर्ष खिलाड़ी साउथ अफ्रीका से हैं और उनको चार्टड प्लेन से यूएई ले जाना हमारे लिए सही रहेगा। इसे लेकर जो भी खर्चा आएगा फ्रेंचाइजियां आपस में बांटेंगी। रविवार को होने वाली बैठक के बाद ही इस पर अंतिम फैसला लिया जाएगा।"

इस बात में सहमति देते हुए एक अन्य फ्रेंचाइजी के अधिकारी ने कहा कि हर फ्रेंचाइजी अपने खिलाड़ी के लिए अलग प्लेन भेजे इससे बेहतर है कि सभी मिलकर एक प्लेन भेज दें और खिलाड़ियों को यूएई बुला लें।

अधिकारी ने कहा, "हम क्यों एक खिलाड़ी एक प्लेन भेजे और दूसरी फ्रेंचाइजी अपने खिलाड़ी के लिए अलग प्लेन भेजे? इस समय जब यातायात पाबंदियां हैं, हर कोई सावधानी से आगे बढ़ रहा है। हमारे लिए यह सही रहेगा कि हम एक साथ मिलकर एक प्लेन करें और उन सभी को उसमें लेकर आएं।"

वहीं बीसीसीआई भी अपनी एक टीम आईपीएल से पहले यूएई भेजेगी ताकि वह देश में इंतजामात को देख सके क्योंकि टीमें मुख्य तौर पर अबु धाबी और दुबई में ही रुकना चाहती हैं।

अधिकारी ने कहा, "कोई भी शारजाह में रुकने को लेकर राजी नहीं है। अबु धाबी और दुबई में तकरीबन 15 अंतर्राष्ट्रीय चेन के होटल हैं और हम वहीं रुकने के बारे में सोच रहे हैं। हमसे कहा गया है कि बीसीसीआई हमारे यूएई जाने से पहले वहां टीम भेज रही है।"

उन्होंने कहा, "अभी कुछ नहीं पता कि चीजें कैसे होंगी क्योंकि अभी तक प्लेन सेवा शुरू नहीं हुई है और चार्टड प्लेन का ही विकल्प दिख रहा है। लेकिन यह समस्या नहीं है क्योंकि बीते वर्षों से ऐसा होता आया है कि अगर आईपीएल के रास्ते में कुछ परेशानी आती है तो बीसीसीआई रणनीति को सटीक तरह से लागू करती है और यह सुनिश्चित करती है कि टूर्नामेंट बिना किसी परेशानी के खेला जाए।"