X close
X close

चेन्नई के कोच फ्लेमिंग का बयान, तीसरे साल भी ज्यादा उम्र वाले खिलाड़ियों के कारण नुकसान उठाना पड़ा, लेकिन अभी भी वापसी की उम्मीद

By Shubham Shah
Oct 20, 2020 • 13:14 PM

आईपीएल 2020 में अभी तक महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स का प्रदर्शन बहुत ही खराब रहा है। टीम ने अभी तक इस टूर्नामैंट में कुल 10 मैच खेले है जिसमें उन्हें 3 में ही जीत मिल पाई है और बाकि 7 मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। 

चेन्नई के कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने राजस्थान रॉयल्स के हाथों 7 विकेट की हार के बाद कहा है कि अब उन्हें लगता है की उनकी टीम प्लेऑफ की दौड़ से लगभग बाहर हो चुकी है। उन्होंने कहा की 2018 में उन्होंने टूर्नामेंट अपने नाम किया।  उसके अगले साल वो उपविजेता रहे लेकिन इस साल ज्यादा उम्र वाले खिलाड़ियों के साथ उन्हें परेशानी आयी है। 

Also Read: IPL 2020: धोनी को नहीं दिखा युवाओं में स्पार्क तो फूटा पूर्व दिग्गज इंडियन क्रिकेटर का गुस्सा, कहा-'यह हास्यास्पद है...'

फ्लेमिंग ने कहा, " अब पॉइंट्स टेबल को ध्यान से देखते हुए ये कहना गलत नहीं होगा की हम रेस से बाहर हो चुके है। "
 
उन्होंने आगे कहा, " अगर आप पिछले तीन साल को देखें तो हम पहले साल जीते।  दूसरे साल हमें आखरी गेंद पर मात मिली और अब वरिष्ठ खिलाड़ियों की टीम के टीम के साथ इस साल हमें परेशानी हो रही है।  साथ ही यूएई में जैसे हालात है उसको लेकर भी हम संयोजन नहीं बैठा पाए।"

हालांकि फ्लेमिंग ने कहा की थोड़े बहुत मौके है जिससे हम टूर्नामैंट में वापसी कर सकते है लेकिन उसके लिए उन्हें दूसरे टीमों का रिजल्ट पर निर्भर रहना पड़ेगा।