X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

आस्ट्रेलिया का यह पूर्व ऑलराउंडर आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स को चैम्पियन बनाना चाहता है !

by Vishal Bhagat Dec 02, 2019 • 15:50 PM

नई दिल्ली, 2 दिसम्बर | आस्ट्रेलिया के पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी एंड्रयू बैरी मैक्डोनाल्ड को उम्मीद है कि उनके कोच रहते हुए राजस्थान रॉयल्स अपने अंदर की कमियों को खत्म करेगी और अंडरडॉक्स के तमगे को हटा इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के आगामी सीजन में विजेता ट्रॉफी अपने नाम करेगी।

राजस्थान ने 2008 में आस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर शेन वार्न की कप्तानी में आईपीएल का पहला सीजन अपने नाम किया था। इसके बाद यह टीम उम्मीदों को मुताबिक प्रदर्शन नहीं कर पाई और सिर्फ तीन बार ही प्लेऑफ खेलने में सफल हो सकी है।

पिछले संस्करण में राजस्थान अंकतालिका में सातवें स्थान पर रही थी।

मैक्डोनाल्ड ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा कि उनका ध्यान घर विभाग में टीम में सुधार करना और उसे मजबूत बनाना है।

मैक्डोनाल्ड ने कहा, "मुझे यह बेहतरीन मौका लगा। एक समान बात यह है कि हम राजस्थान को मैच जिताने के लिए काम कर रहे हैं।"

उन्होंने कहा, "राजस्थान 10 सीजन खेली है और उसने चार बार वह अंतिम-4 में पहुंचने में सफल रही है। हमारे सामने चुनौती सुधार करने और सुधारों को लंबे समय तक बनाए रखने की है।"

पूर्व आस्ट्रेलियाई खिलाड़ी ने कहा, "मैं टीम में सुधार करना चाहता हूं ताकि हम अंडरडॉग्स के तमगे से बाहर निकल खिताब के दावेदार के रूप में पहचाने जा सकें।" फ्रेंचाइजी के पास स्टीव स्मिथ, बेन स्टोक्स, जोफ्रा आर्चर जैसे खिलाड़ी हैं लेकिन फिर भी टीम का प्रदर्शन अच्छा नहीं रहा है।

मैक्डोनाल्ड ने इस पर कहा कि प्रदर्शन सही न रहने के कई कारण होते हैं। उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि टीम सफल नहीं होती इसके कई कारण होते हैं। इसका एक कारण यह होता है कि सामने वाली टीमें आपसे ज्यादा मजबूत होती हैं। यह बेहद प्रतिस्पर्धी टूर्नामेंट है। इसलिए अंतिम-4 में जगह बनाना आसान नहीं होता है।"

मैक्डोनाल्ड 2009 में आईपीएल में दिल्ली डेयरडेविल्स के लिए खेल चुके हैं। इसके बाद वे 2012-23 में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर गए।

आस्ट्रेलिया के लिए चार टेस्ट मैच खेलने वाले मैक्डोनाल्ड का मानना है कि आईपीएल में खेलना उनके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है।

उन्होंने कहा, "पूरे सीजन के दौरान उतार-चढ़ाव आएंगे। मैं टी-20 को रोलरकोस्टर कहता हूं क्योंकि यह ऊपर-नीचे जाता रहता है। इसलिए आईपीएल में खेलने से, मुझे पता चला है कि खिलाड़ी किस चीज से गुजरते हैं।