X close
X close

VIDEO : 'अंदर की बात तो हमें पता है, अल्लाह ही हाफिज़ है इन लोगों का'

इंग्लैंड के खिलाफ टी-20 सीरीज गंवाने के बाद पाकिस्तानी टीम की जमकर आलोचना की जा रही है। पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर्स भी पीसीबी पर सवाल दागने से पीछे नहीं हट रहे हैं।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav October 03, 2022 • 16:10 PM

इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू टी-20 सीरीज गंवाने के बाद पाकिस्तानी टीम की जमकर आलोचना हो रही है। पूर्व पाकिस्तानी क्रिकेटर्स और फैंस इस टीम पर अपनी भड़ास निकाल रहे हैं। इसी कड़ी में कामरान अकमल का नाम भी जुड़ गया है जो लगातार अपनी राय रखते हैं और पाकिस्तानी क्रिकेट बोर्ड की पॉलिसी पर सवाल उठाते आए हैं। इंग्लैंड के खिलाफ शर्मनाक हार के बाद कामरान अकमल ने एक बार फिर रमीज़ राजा और पाकिस्तानी टीम पर अपनी भड़ास निकाली है।

कामरान अकमल ने अपने यूट्यूब चैनल पर बोलते हुए कहा, 'सातवां मैच था सीरीज का, हम अपनी कंडीशंस में खेल रहे थे और हमें लग रहा था कि पाकिस्तान जीतेगा लेकिन मैं भूल गया था कि जब पाकिस्तान की वर्ल्ड कप की टीम अनाउंस हुई थी तो मैंने पहले ही कहा था कि आंखों पर पट्टी बांधकर इस टीम को सेलेक्ट किया गया है। जब से ये दो तीन बंदों ने पीसीबी में एंट्री की है। ये छिपते-छिपाते पीसीबी में कुर्सी पर आकर बैठ गए हैं लेकिन ये याद रखना कि आप जैसी टीम बनाएंगे, वैसी ही परफॉर्मेंस आएगी। आप पाकिस्तान की क्रिकेट को ऊपर उठाने थोड़ी आए हैं। आप तो अपने पर्सनल एज़ेंडा पूरे करने आए हैं।'

Trending


आगे बोलते हुए उन्होंने कहा, 'हमारी आवाम इनकी बातें सुनकर, प्लान्स सुनकर खुश हो जाती है लेकिन अंदर की बात तो हमें पता है, हम क्रिकेटर हैं। आप किस लिए आए हैं, अल्लाह ही हाफिज़ है आप लोगों का। मेरी चेयरमैन साहब से गुज़ारिश है कि अब कितना बर्दाश्त करें हम आपको, कितनी मोहलत दें हम आपको, इनके हाथ से कमान ले लेनी चाहिए और किसी और बंदे को लाना चाहिए। इन्होंने पाकिस्तान की क्रिकेट को नीचे लाने का काम किया है।'

Also Read: Live Cricket Scorecard

इसके अलावा अकमल ने पाकिस्तान के युवा खिलाड़ियों पर भी जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि इन खिलाड़ियों में ना अप्रोच है और ना ही क्षमता है। आप जैसे खिलाड़ियों को टीम में लाएंगे आपको नतीजे भी वैसे ही मिलेंगे। इसलिए आप डोमेस्टिक का हाल भी देख लें तो वहां भी खिलाड़ियों को कहां मौके मिल रहे हैं। मुझे कोई प्रोसेस नहीं नज़र आ रहा है जबकि इंग्लैंड की टीम प्लान और प्रोसेस के साथ आई थी।