X close
X close
Indibet

एलिमिनेटर मुकाबले से पहले हैदाराबाद के मोहम्मद नबी ने कहा ऐसा करने के बाद ही मिलेगी जीत

Vishal Bhagat
By Vishal Bhagat
May 07, 2019 • 19:36 PM View: 757

7 मई। नई दिल्ली, | इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 12वें संस्करण के प्लेऑफ में जगह बनाने वाली पूर्व विजेता सनराइजर्स हैदराबाद के ऑफ स्पिनर मोहम्मद नबी ने कहा है कि अगर टीम को खिताब जीतना है तो स्थानीय खिलाड़ियों को अच्छा करना ही होगा।

कई विदेशी खिलाड़ी अपने देश की विश्व कप टीम के अभ्यास शिविर में हिस्सा लेने के लिए स्वेदश लौट चुके हैं इनमें हैदराबाद की टीम के दो बड़े नाम जॉनी बेयरस्टो (इंग्लैंड) और डेविड वार्नर (आस्ट्रेलिया) के नाम शामिल हैं। 

इन दोनों के दम पर हैदराबाद ने यहां तक का सफर तय किया है। वार्नर अभी भी इस सीजन में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों में पहले स्थान पर हैं। 

नबी ने आईएएनएस से कहा, "इसमें कोई छुपी हुई बात नहीं हैं कि वार्नर और बेयरस्टो ने हमारे लिए शानदार काम किया, लेकिन यह विश्व कप का साल है और खिलाड़ियों को तैयारी के लिए अपने देश जाना पड़ा।"

उन्होंने कहा, "आप अब इसे लेकर बैठ नहीं सकते क्योंकि जो अपनी बारी का इंतजार कर रहे हैं वो भी अच्छे हैं। टीम में कई अच्छे स्थानीय खिलाड़ी हैं और उनकी फॉर्म काफी मायने रखती है। टूर्नामेंट जीतने के लिए स्थानीय खिलाड़ियों को अच्छा करना होगा।"

हैदराबाद का यह सीजन ज्यादा अच्छा नहीं रहा है। उसे प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए मुंबई इंडियंस के कोलकाता नाइट राइडर्स को मात देने का इंतजार करना पड़ा था।

नबी ने माना कि उनकी टीम के लिए यहां तक का सफर आसान नहीं रहा है, लेकिन अब समय अतीत को निहराने का नहीं बल्कि अपनी पूरी ताकत के साथ भविष्य पर काम करने का है। 

उन्होंने कहा, "थोड़े बहुत उतार-चढ़ाव रहते हैं, लेकिन हमने कोई भी मैच एकतरफा नहीं हारा। हमारी टीम की वापसी शानदार रही है और अब यह समय है जब हम अपनी टीम के खेल को अगले स्तर पर ले जाएं। आपके कुछ बुरे दिन होते हैं और वो हमारे साथ भी हुआ। किस्मत भी अहम किरदार निभाती है।"

नबी ने इस सीजन सिर्फ सात मैच ही खेले हैं, लेकिन अफगानिस्तान का यह खिलाड़ी मानता है कि टीम का संयोजन और मैच जीतना मायने रखता है। 

उन्होंने कहा, "जब अंतिम-11 की बात होती है जो विपक्षी टीम को देखा जाता है। इसलिए आपको बाहर बैठना पड़ता है और इसे लेकर शिकायत करने की कोई तुक नहीं है। कोच और कप्तान टीम चुनते हैं और देखते हैं कि दूसरी तरफ कौन है। हम जिस लीग में खेल रहे हैं यह उस लीग के स्तर का हिस्सा है।"

Trending



 
Article