X close
X close
Indibet

'होमवर्कगेट' से काफी कुछ सीखा: आर्थर

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma
May 10, 2016 • 19:14 PM View: 877

मेलबर्न, 10 मई (Cricketnmore): पाकिस्तान क्रिकेट टीम के नवनियुक्त मुख्य कोच मिकी आर्थर ने कहा है कि आस्ट्रेलिया का कोच रहने के दौरान हुए तल्ख अनुभवों, खासकर 2013 में हुए 'होमवर्कगेट' से उन्होंने काफी कुछ सीखा। आर्थर को पिछले शुक्रवार को पाकिस्तान टीम का कोच बनाया गया।

आर्थर ने आस्ट्रेलिया का कोच रहते भारतीय टीम के खिलाफ मोहाली में हुए तीसरे टेस्ट मैच में उप-कप्तान शेन वाटसन, मिशेल जॉनसन, जेम्स पैटिंसन और उस्मान ख्वाजा को टीम से बाहर कर दिया था। इन खिलाड़ियों से दूसरे टेस्ट में मिली हार के बाद अपनी तीन ऐसी कमजोरियां बताने को कहा गया था, जिनमें सुधार किया जा सकता है। लेकिन, इन खिलाड़ियों ने ऐसा नहीं किया था जिसके कारण उन्हें टीम से बाहर कर दिया गया था। इस पूरे मामले को 'होमवर्कगेट' नाम दिया गया था।

Trending


आर्थर (47) को टीम को मिली 0-4 की हार के बाद कोच पद से हटा दिया गया था। उन्होंने कहा कि आस्ट्रेलिया में रहते उनका कार्यकाल बहुत सहज नहीं रहा था, लेकिन उन्होंने इससे काफी कुछ सीखा है।

एक स्पोर्ट्स वेबसाइट के मुताबिक, आर्थर ने कहा, "मैं 'होमवर्कगेट' शब्द से नफरत करता हूं। मैं उस पूरे मामले से भी नफरत करता हूं। लेकिन, अंत में सवाल है कि क्या मैं दोबारा ऐसा करूंगा ? कह नहीं सकता। शायद हां या शायद न। लेकिन, मैंने उस हादसे से काफी कुछ सीखा।"

उन्होंने कहा, "ऐसी कुछ चीजें हैं जिन्हें मैं अलग तरीके से कर सकता था लेकिन वह खुली चर्चा का विषय नहीं हैं।"

उन्होंने कहा, "दक्षिण अफ्रीका का कोच रहते मेरे जो सिद्धांत थे, उन्हें मैंने आस्ट्रेलिया में भी लागू करने की कोशिश की। शायद मुझे थोड़ा लचीला होना चाहिए था और माहौल को थोड़ा और अच्छे से समझना चाहिए था और बदलाव की नीयत से काम करना चाहिए था। इन बातों ने अब मुझे बेहतर कोच बनाया है।"

एजेंसी


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo
TAGS