X close
X close
Indibet

ज्यादा सहयोगी स्टाफ की जरूरत : मिताली

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma
June 04, 2016 • 23:33 PM View: 1208

नई दिल्ली, 4 जून | इंग्लैंड में होने वाले अगले महिला क्रिकेट विश्व कप से पहले भारतीय महिला क्रिकेट टीम की कप्तान मिताली राज ने शनिवार को ज्यादा सहयोगी स्टाफ की जरूरत पर जोर दिया है। वेबसाइट के मुताबिक मिताली ने कहा, "विश्व कप के लिए एक साल का समय बचा है। हमें जल्द से जल्द अपनी तैयारी शुरू कर देनी चाहिए। मेरा व्यक्तिगत तौर पर मानना है कि हमें और ज्यादा सहयोगी स्टाफ की जरूरत है।"

मिताली ने कहा, "यह पहली चीज है जिस पर मेरा ध्यान है। टी-20 विश्व में हमारे पास कोच, मैनेजर, फिजियो, और प्रशिक्षक ही थे। अगर हमारे साथ क्षेत्ररक्षण कोच और सहायक कोच होते तो हमारा प्रदर्शन बेहतर होता क्योंकि इससे कोच के ऊपर से दबाव हट जाता।"

उन्होंने कहा, "कोच सभी चीजों पर ध्यान नहीं दे सकता। अगर कोई नेट्स पर बल्लेबाजी कर रहा है तो हमारे पास क्षेत्ररक्षण का अभ्यास कर रही लड़कियों का सहयोग करने के लिए कोई नहीं है क्योंकि एक कोच नेट्स पर व्यस्त हैं।"

टीम की कप्तान ने वेस्टइंडीज और पाकिस्तान के खिलाफ होने वाली श्रृंखला से पहले प्रशिक्षण शिविर लगाने की वकालत भी की है।

मिताली ने कहा, "यह दोनों श्रृंखला अंक और तैयारी के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं। मैं इन श्रृंखलाओं से पहले कुछ शिविरों के पक्ष में हूं क्योंकि टीम की खिलाड़ियों को लंबे अंतराल के बाद मैदान पर उतरना है। कुछ ऐसी भी खिलाड़ी हो सकती हैं जो किसी अलग चीज पर काम करना चाहती हों।"

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के भारतीय महिला खिलाड़ियों को विदेशी लीगों में खेलने की अनुमति के फैसले का मिताली ने स्वागत किया है और कहा है कि इससे युवा खिलाड़ियों को फायदा होगा।

मिताली ने कहा, "यह काफी सकारात्मक फैसला है। चूंकि हमारे पास खुद की कोई महिला लीग नहीं है तो बाहर जाकर खेलने से स्मृति मनधाना जैसी अन्य युवा खिलाड़ियों को काफी फायदा होगा।"

Agency

Trending



Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo
TAGS