X close
X close

कोहली-कोहली के नारों पर नवीन उल हक ने तोड़ी चुप्पी, बोले- 'मुझ पर कोई असर नहीं पड़ता'

विराट कोहली से विवाद के बाद नवीन उल हक जब-जब मैदान पर उतरे फैंस ने उन्हें कोहली का नाम लेकर चिढ़ाने की कोशिश की और ये सिलसिला मुंबई के खिलाफ मुकाबले में भी जारी रहा जिस पर नवीन ने अब

Shubham Yadav
By Shubham Yadav May 25, 2023 • 13:02 PM

1 मई के दिन रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर और लखनऊ सुपर जायंट्स के बीच हुए मुकाबले में विराट कोहली और नवीन उल हक के बीच जो विवाद देखने को मिला उसने हर क्रिकेट फैंस को एंटरटेनमेंट तो दिया ही लेकिन साथ ही कुछ लोग इस घटना को देखकर हैरान भी थे। इस मैच में जो कुछ हुआ वो लगातार नवीन उल हक का बाकी मैचों में भी पीछा करता रहा और मुंबई इंडियंस के खिलाफ एलिमिनेटर मुकाबले में भी फैंस नवीन को विराट कोहली का नाम लेकर चिढ़ाते दिखे।

लखनऊ के आखिरी कुछ मैचों में जब-जब नवीन उल हक मैदान पर दिखे तब-तब फैंस कोहली-कोहली के नारे लगाकर उन्हें चिढ़ाते दिखे। हालांकि, अब नवीन उल हक ने पहली बार फैंस के चिढ़ाए जाने पर रिएक्ट किया है। नवीन ने हाल ही में एक इंटरव्यू दिया जिसमें उन्होंने कहा कि वो बाहर के शोर पर गौर नहीं करते हैं और अगर कोई फैन ऐसा करता है तो उन्हें और भी मोटिवेशन मिलता है।

Trending


मैच के बाद बात करते हुए नवीन ने कहा, "वैसे मैं बाहर या बाहर के शोर या किसी और चीज़ पर ध्यान केंद्रित नहीं करता। मैं सिर्फ अपने क्रिकेट और अपनी प्रक्रिया पर ध्यान देता हूं। फैंस के नारे लगाने या किसी के कुछ कहने से मुझ पर कोई असर नहीं पड़ता। पेशेवर खिलाड़ी के तौर पर आपको इसे अपने तरीके से लेना होगा। जब आप अपनी टीम के लिए अच्छा नहीं करते हैं, प्रशंसक आपको ऐसा बोलेंगे और जब आप अपनी टीम के लिए अच्छा करते हैं, तो वही लोग आपके नाम का जाप करने वाले होते हैं। मूल रूप से ये खेल का हिस्सा है।”

Also Read: किस्से क्रिकेट के

ये पूछे जाने पर कि गंभीर के साथ उनकी दोस्ती ने उन्हें आईपीएल के दौरान एक खिलाड़ी के रूप में विकसित होने में कैसे मदद की, नवीन ने जवाब में कहा, "हर किसी को अपने खिलाड़ियों को बैक करना चाहिए। मेंटोर, कोच, खिलाड़ी या कोई भी हो। मैं मैदान पर प्रत्येक टीम के साथी के लिए खड़ा रहूंगा और मैं प्रत्येक व्यक्ति से भी यही उम्मीद करता हूं। वो (गंभीर) भारत के लिए एक महान खिलाड़ी रहे हैं, भारत में उनका बहुत सम्मान है। उन्होंने भारतीय क्रिकेट को बहुत कुछ दिया है। एक मेंटोर के रूप में, एक कोच के रूप में, क्रिकेट के दिग्गज के रूप में, मैं उनका बहुत सम्मान करता हूं और उनसे बहुत कुछ सीखा है।"