X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

रिकार्ड लक्ष्य चेस कर रणजी ट्रॉफी में सौराष्ट्र ने बनाया रिकॉर्ड, ऐसा करने वाली पहली टीम बनी

by Vishal Bhagat Jan 19, 2019 • 16:14 PM

19 जनवरी। हार्विक देसाई के पहले प्रथम श्रेणी शतक के दम पर सौराष्ट्र ने रणजी ट्रॉफी के दूसरे क्वार्टर फाइनल में शनिवार को रिकार्ड 372 रनों के लक्ष्य को हासिल कर उत्तर प्रदेश को छह विकेट से मात दे सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया। यह रणजी ट्रॉफी इतिहास में हासिल किया गया अब तक का सबसे बड़ा लक्ष्य है। इससे पहले असम ने 2008-09 में सर्विसेस द्वारा रखे गए 371 रनों के लक्ष्य को हासिल कर इतिहास रचा था।

सौराष्ट्र ने मैच के पांचवें और आखिरी दिन शनिवार की शुरुआत दो विकेट के नुकसान पर 195 रनों के साथ की थी। देसाई अपने पहले शतक से 17 रन दूर थे जिसे उन्होंने आसानी से हासिल कर लिया। उनके साथ चौथे दिन नाबाद लौटने वाले कमलेश माकवाना (7) हालांकि अपने खाते में तीन रन और जोड़कर पवेलियन लौट लिए। 

देसाई भी 236 के कुल स्कोर पर पवेलियन लौट लिए। देसाई की पारी में 259 गेंदों का सामना किया और 16 चौके मारे। उनके जाने के बाद चेतेश्वर पुजारा (नाबाद 67) और शेल्डन जैक्सन (नाबाद 73) ने चौथे विकेट के लिए 136 रनों की साझेदारी कर टीम को जीत दिलाई। 

पुजारा ने 110 गेंदों का सामना किया और नौ चौके मारे। जैक्सन ने 109 गेंदें खेलीं और 11 चौकों के अलावा एक छक्का लगाया। 

उत्तर प्रदेश ने अपनी पहली पारी में 385 रन बनाए थे तो वहीं सौराष्ट्र अपनी पहली पारी में 208 रन ही बना सकी थी। उत्तर प्रदेश ने अपनी दूसरी पारी में 194 रन बनाए थे और इस लिहाज से उसने सौराष्ट्र के सामने विशाल चुनौती रखी थी। 

सेमीफाइनल में सौराष्ट्र का सामना कनार्टक से होगा जिसने राजस्थान को मात दे सेमीफाइनल में जगह बनाई है।