X close
X close
Indibet

Ranji Trophy: शतक जड़ने के बाद नहीं मनाया जश्न, बेटी को खोकर मैदान पर बल्लेबाज़ी करने उतरे थे विष्णु सोलंकी

भारत में घरेलू टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी खेली जा रही है, जिसमें लगातार ही खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं।

By Nishant Rawat February 26, 2022 • 12:38 PM View: 1230

भारत में घरेलू टूर्नामेंट रणजी ट्रॉफी खेली जा रही है, जिसमें लगातार ही खिलाड़ी शानदार प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच बड़ौदा और चंडीगढ़ के बीच मैच जारी है, जिसमें बड़ौदा के बल्लेबाज़ विष्णु सोलंकी ने शतकीय पारी खेली है, जिसके बाद से ही ये बल्लेबाज़ सोशल मीडिया पर सुर्खियों में हैं। लेकिन अपनी शतकीय पारी के लिए नहीं बल्कि क्रिकेट और अपनी टीम के प्रति समर्पण के लिए। 

दरअसल विष्णु सोलंकी के घर पर हाल ही में नन्ही परी ने जन्म लिया था, लेकिन इस क्रिकेटर की बेटी ज्यादा समय तक अपने मामा-पिता के साथ रह नहीं सकी। जी हां आप बिल्कुल सही समझे, विष्णु की बेटी का निधन हो गया है, जिसके बाद ये बल्लेबाज़ हाल ही में अपनी बेटी का अंतिम संस्कार करके मैदान पर टीम के प्रति अपने कर्तव्य को पूरा करने पहुंचा था। इस दुख के समय में विष्णु ने बड़ा कलेजा दिखाया है और बड़ौदा के लिए शानदारी पारी खेलते हुए शतक भी जड़ा लेकिन उन्होंने मैदान पर कोई जश्न नहीं मनाया।

Trending


विष्णु ने अपनी पारी के दौरान 165 बॉल का सामना करते हुए 104 रन बनाए। जिसके दौरान उन्होंने 63 के स्ट्राइकरेट से बल्लेबाज़ी करते हुए 12 चौके भी लगाए है। ऐसी कठिन परिस्थियों में इस खिलाड़ी की बल्लेबाज़ी से उनका खेल के प्रति समर्पण साफ नज़र आता है, जिस वज़ह से सोशल मीडिया पर उनकी काफी तारीफ हो रही है। बता दें कि उनके साथी खिलाड़ी शेलडन जैक्शन इस खिलाड़ी और उनके परिवार को अपने आधिकारिक ट्विवर अकाउंट से ट्वीट करते हुए सैल्यूट किया है।

Also Read: टॉप 10 लेटेस्ट क्रिकेट न्यूज

बात करें अगर इस मैच की तो खबर लिखे जाने तक तीसरे दिन के पहले सेशन का खेल जारी है। बडौदा की टीम ने यहां टॉस जीतकर बॉलिंग करने का फैसला किया था, जिसके बाद पहली इनिंग में चंडिगढ़ की पूरी टीम सिर्फ 168 रनों पर ही सिमट गई थी। बड़ौदा की टीम ने अब तक आठ विकेट गवांकर 504 रन बना दिए हैं और 336 रनो की विशाल लीड ले रखी है।

IB

Win Big, Make Your Cricket Prediction Now