X close
X close
Indibet

गांगुली से पूछें, उन्हें मुझसे क्या तकलीफ है : रवि शास्त्री

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma
June 28, 2016 • 18:27 PM View: 3016

जून 28, मुंबर्ई (CRICKETNMORE): भारतीय क्रिकेट टीम के कोच को लेकर शुरू हुआ विवाद अब भी थमने का नाम नहीं ले रहा है। इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व डायरेक्टर रवि शास्त्री जो कि पहले से ही अनिल कुंबले के कोच बनाए जाने से नाराज चल रहे थे, अब उनके कुछ और बयान सामने आए हैं।

उन्होंने एक इंग्लिश न्यूज पेपर को दिए इंटरव्यू में कहा कि सौरव गांगुली से ये पूछा जाना चाहिए कि उन्हें आखिर मुझसे किस बात को लेकर दिक्कत है।

Trending


गौरतबल है कि कोच के लिए जिस वक्त शास्त्री का इंटरव्यू चल रहा था, तो उस दौरान गांगुली वहां मौजुद नहीं थे।

आपको बता दे कि कोच बनने की रेस में शास्त्री का नाम सबसे आगे चल रहा था लेकिन पूर्व भारतीय क्रिकेटर अनिल कुंबले को अगले एक साल के लिए इंडियन क्रिकेट टीम के कोच के तौर पर नियुक्ति की गई है।

शास्त्री ने दो इंग्लिश न्यूज पेपर में दिए इंटरव्यू में अपनी भावनाओं को व्यक्त करते हुए कहा कि उस वक्त मुझे काफी दुख हुआ जब मुझे कोच नही बनाया गया। लेकिन अब कोई फर्क नहीं पड़ता क्योंकि ये बात एक सप्ताह पुरानी हो गई है।

उन्होंने आगे कहा कि कोच के तौर पर किसकी नियुक्ति होनी चाहिए ये फैसला बोर्ड के हाथ में होता है। यह केवल बोर्ड का हक है कि वो किसे जिम्मेदारी सौंपना चाहता है।

आगे जब शास्त्री से ये पुछा गया कि क्या कुंबले को कोच बनाने का फैसला पहले से ही तय था? इस पर उन्होंने कहा “इस सवाल का जवाब देना मेरा काम नहीं है”। जब मैं बतौर डायरेक्टर था, तो टीम तैयार करना मेरा काम था जिसे मैने पूरी ईमानदारी के साथ निभाया है। आज हर फॉर्मेंट में इंडियन क्रिकेट टीम वर्ल्ड की टॉप-2 टीम में है।

कोच की नियुक्ति प्रक्रिया पर शास्त्री ने कहा कि मेरा काम सिर्फ इंटरव्यू देना था और वो मैंने दे दिया। इसके अलावा अंदर क्या हो रहा था, इस बारे में मैं क्या कह सकता हूं।

शास्त्री से सौरव गांगुली पर पुछा गया कि आपके इंटरव्यू के दौरान गांगुली क्यों मौजूद नहीं थे, तो इसपर उन्होंने कहा कि ये सवाल सौरव से पुछना ज्याद बेहतर होगा।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक रवि शास्त्री और सौरव गांगुली के रिश्ते को लेकर ये बताई जा रही है कि एक साल पहले गांगुली जब टीम डायरेक्टर बनने की रेस में शास्त्री से पिछड़ गए थे तब से ही गांगुली की पूरी कोशिश थी कि शास्त्री कोच नहीं बन पाए।


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo
TAGS