Advertisement
Advertisement

SA vs IND: ये पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज हुआ शमी की बॉलिंग का दीवाना, कहा- रेड बॉल के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज शमी

South Africa vs India: इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज दीप दासगुप्ता साउथ अफ्रीका सीरीज के पहले टेस्ट में मोहम्मद शमी की गेंदबाजी से काफी खुश नज़र आ रहे है। मोहम्मद शमी ने साउथ अफ्रीका की पहली इनिंग में

Nishant Rawat
By Nishant Rawat December 29, 2021 • 11:42 AM
Cricket Image for SA vs IND: ये पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज हुआ शमी की बॉलिंग का दीवाना, कहा- रेड बॉल क
Cricket Image for SA vs IND: ये पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज हुआ शमी की बॉलिंग का दीवाना, कहा- रेड बॉल क (Image Source: Google)
Advertisement

South Africa vs India: इंडियन क्रिकेट टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज दीप दासगुप्ता साउथ अफ्रीका सीरीज के पहले टेस्ट में मोहम्मद शमी की गेंदबाजी से काफी खुश नज़र आ रहे है। मोहम्मद शमी ने साउथ अफ्रीका की पहली इनिंग में 44 रन खर्चते हुए 5 विकेट चटकाए हैं। जिसके बाद दीप दासगुप्ता ने इस तेज गेंदबाज को इंडियन टीम की रेड बॉल क्रिकेट का सबसे बढ़िया गेंदबाज बताया है।

भारतीय टीम के इस पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज से जब ये पूछा गया कि क्या शमी लाल बॉल के सर्वश्रेष्ठ भारतीय तेज गेंदबाज है तो उन्होंने हां में सवाल का जवाब दिया। उन्होंने कहा "हां, क्योंकि अगर मैं इंडियन और सेना कंडिशन दोनों को मैं दिमाग में रखूं तो मेरा ख्याल से हां। 

Trending


उन्होंने इस दौरान साउथ अफ्रीका की बल्लेबाजी पर भी अपनी राय रखी है। उन्होंने कहा कि उनकी बल्लेबाजी में काफी हद तक दम नहीं है। क्योंकि उनके ऊपरी क्रम के बल्लेबाज और टीम का बल्लेबाजी क्रम थोड़ा नाजुक दिखा रहा है। उन्होंने साउथ अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाजी क्रम से उनकी तुलना करते हुए कहा कि अगर हम तुलना करे इससे पहले जो सीरीज हमने देखी है, जो साउथ अफ्रीका टीम उसके आगे ये हल्का जरूर दिख रहा है।

इस दौरान दीप दासगुप्ता ने सेंचुरियन पिच की उछाल के बारे में बताया कि पहले दिन पिच पर नमी ज्यादा थी जिसके चलते वहां टेनिस बॉल जैसा बाउंस था, लेकिन अब जैसे-जैसे पिच सूख रहा है उतना ही कैरी ज्यादा देखने को मिल रहा है। उन्होंने बताया कि आगे चलकर चौथे दिन पिच में ओर ज्यादा बाउंस देखने को मिल सकता है। 

Also Read: Ashes 2021-22 - England vs Australia Schedule and Squads

उन्होंने भारतीय टीम के स्पिन गेंदबाज अश्विन की भी बात की। उन्होंने कहा, अश्विन साउथ अफ्रीका की पिचों पर असरदार नहीं है यह कहना गलत होगा अगर आप अश्विन की इंडिया की बाहर की गेंदबाजी देखे तो जो उनकी गेंदबाजी में निखार आया है वो दो तीन सालों में आया है और उन दो तीन सालों में अश्विन को साउथ अफ्रीका में मौका ही नहीं मिला। मैच के तीसरे दिन काफी समय बाद उन्हें साउथ अफ्रीका में ओवर डालने को मिले, लेकिन इस पिच पर स्पिनर्स के लिए मदद नहीं है। उनका फस्ट इनिंग में रूल अलग है, लेकिन सेकेंड इनिंग में फुट मार्क बनेंगे तो शायद उनका रूल अटैकिंग होगा। 

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement