X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

श्रीलंका से हार पर सीनेट कमेटी पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड पर बरसी

by Saurabh Sharma Oct 17, 2019 • 22:49 PM

इस्लामाबाद, 17 अक्टूबर | श्रीलंका के अनुभवहीन युवा क्रिकेट खिलाड़ियों के हाथों टी- 20 श्रृंखला में राष्ट्रीय टीम की हार के बाद से पाकिस्तान में हंगामा मचा हुआ है। पाकिस्तानी सीनेट की एक समिति ने इस हार के लिए पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड को जमकर फटकारा है और उसे इस 'शर्मनाक हार' के लिए जिम्मेदार बताया है। सीनेट की इंटर प्रोवंशियल कोआर्डिनेशन (आईपीसी) पर स्थाई समिति की बैठक में सीनेटरों ने पीसीबी के डॉयरेक्टर डोमेस्टिक क्रिकेट ऑपरेशन्स हारून रशीद की तरफ से दिए गए स्पष्टीकरणों को खारिज कर दिया और बैठक में पीसीबी चेयरमैन अहसान मनी और पीसीबी सीईओ वसीम खान के नहीं आने पर नाराजगी जताई।

सीनेटरों ने टीम में अहमद शहजाद और उमर अकमल को शामिल करने पर भी सवाल उठाया। पाकिस्तान मुस्लिम लीग के सीनेटर मुशाहिदुल्ला खान ने तो साफ कहा कि इन दोनों खिलाड़ियों को 'काफी ऊपर की सिफारिश के बाद टीम में ले लिया गया। मुख्य चयनकर्ता मिस्बाह-उल-हक पर इन्हें टीम में लेने के लिए दबाव था।'

सीनेटर फैसल जावेद ने पूछा कि टीम में मोहम्मद हफीज और शोएब मलिक जैसे अनुभवी टी-20 खिलाड़ियों को क्यों नहीं शामिल किया गया।

रशीद ने कहा कि टी-20 में मलिका का प्रदर्शन खराब रहा है। इस पर मुशाहिदुल्ला खान ने पलटकर कहा कि वेस्टइंडीज में इन्हीं शोएब मलिक ने खुद के दम पर टीम को दस मैच जिताए हैं।

रशीद ने टीम के प्रदर्शन पर चर्चा करने से मना कर दिया और कहा कि यह जिम्मेदारी मिस्बाह की है।

एक सीनेटर ने विपक्षी दल के एक मार्च के संदर्भ में चुटकी लेते हुए कहा, "क्रिकेट टीम को भी एक आजादी मार्च निकालना चाहिए।"

समिति ने राष्ट्रीय क्रिकेट टीम के प्रदर्शन पर चिंता जताते हुए अगली बैठक में अहसान मनी को पेश होने का आदेश दिया।