X close
X close
Indibet

स्मृति मंधाना ने बताया, 16 साल की शेफाली वर्मा के साथ बल्लेबाजी करने से होता है क्या फायदा

Saurabh Sharma
By Saurabh Sharma
February 26, 2020 • 19:35 PM View: 1164

मेलबर्न, 26 फरवरी | भारतीय महिला क्रिकेट टीम की सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना का मानना है कि उनकी जोड़ीदार और युवा बल्लेबाज शेफाली वर्मा ने उनके ऊपर से दबाव कम किया है। आईसीसी महिला टी-20 वर्ल्ड कप के ग्रुप-ए में अपने शुरुआती लगातार दोनों मैच जीतने के बाद भारतीय महिला क्रिकेट टीम गुरुवार को यहां जंक्शन ओवल मैदान पर न्यूजीलैंड के साथ होने वाले तीसरे और अंतिम ग्रुप मैच को जीतकर सेमीफाइनल में अपना स्थान पक्का करना चाहेगी।

मंधाना ने मैच की पूर्वसंध्या पर संवाददाता सम्मेलन में कहा, "शेफाली के आने से टी-20 टीम पर काफी सकारात्मक प्रभाव पड़ा है। जिस तरह से बल्लेबाजी करती हैं, उसे देखते हुए उनके साथ बल्लेबाजी करना बेहद आसान हो गया है।"

Trending


उन्होंने कहा, "मैंने पिछले 2-3 वर्षो में खुब सारे रन बनाए हैं, खासकर पॉवरप्ले में। लेकिन अब शेफाली भी उसी तरह से रन बना रही है, जैसे कि मैं बनाती थी। इससे टीम काफी संतुलित हो गई है।"

टी-20 वर्ल्ड कप में पहली बार खेल रही शेफाली को बांग्लादेश के खिलाफ खेले गए मैच में प्लेयर ऑफ द मैच का पुरस्कार मिला था। इस मैच में मंधाना बुखार होने के कारण नहीं खेली थी।

मंधाना ने कहा, "वह अपना स्वभाविक खेल खेलती है और यह उनकी खासियत है। कोई उनको यह नहीं बताता है कि आपको इसे बदलना है। मैं पॉवरप्ले में अहम भूमिका निभाती रही हूं, लेकिन अब शेफाली भी शुरू से ही रन बना रही हैं। उन्होंने टीम पर बहुत बड़ा प्रभाव छोड़ा है और टीम अब ज्यादा संतुलित हो गई हैं।"

मंधाना ने आगे कहा, "मुझे नहीं लगता है कि कुल स्कोर के बारे में सोचकर मैदान पर उतरेंगे। लेकिन हम उसी तरह से खेलना जारी रखेंगे, जिससे कि हमारे बल्लेबाज सहज हो।"
 


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now