Advertisement
Advertisement

पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले शुभमन गिल को मिला ईनाम, आईसीसी ने चुना प्लेयर ऑफ द मंथ

पाकिस्तान के खिलाफ वर्ल्ड कप 2023 के मुकाबले से पहले शुभमन गिल को आईसीसी ने एक ईनाम दिया है। आईसीसी ने शुभमन गिल को सितंबर महीने के लिए प्लेयर ऑफ द मंथ चुना है।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav October 13, 2023 • 15:32 PM
पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले शुभमन गिल को मिला ईनाम, आईसीसी ने चुना प्लेयर ऑफ द मंथ
पाकिस्तान के खिलाफ मैच से पहले शुभमन गिल को मिला ईनाम, आईसीसी ने चुना प्लेयर ऑफ द मंथ (Image Source: Google)
Advertisement

वर्ल्ड कप 2023 के पहले दो मैच चूकने के बाद युवा भारतीय बल्लेबाज शुभमन गिल पाकिस्तान के खिलाफ मुकाबले से मैदान में वापसी के लिए तैयार हैं लेकिन इस महामुकाबले से पहले ही उनसे जुड़ी एक बड़ी खबर सामने आई है। शुभमन को आईसीसी ने सितंबर महीने के लिए आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ चुना है। गिल दो बार ये पुरस्कार जीतने वाले पहले भारतीय बन गए हैं।

पुरुष वर्ग में शुभमन ने तो वहीं, महिला वर्ग में श्रीलंकाई आइकन चमारी अटापट्टू ने पिछले महीने अपनी टी-20 बल्लेबाजी और गेंदबाजी के प्रदर्शन के बाद ये पुरस्कार जीता है। गिल की बात करें तो उन्होंने 2023 में शानदार फॉर्म का आनंद लिया है, जिससे उन्हें आईसीसी पुरुष वनडे बल्लेबाजी रैंकिंग में उछाल मिला है, और अब वो अगस्त प्लेयर ऑफ द मंथ विजेता, पाकिस्तान के बाबर आज़म से कुछ ही दूरी पर हैं।

Trending


एशिया कप में धमाल मचाने के बाद, गिल एक बार फिर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज में चमके, उन्होंने मोहाली में 74 रन और इंदौर में 104 रन बनाए। कैलेंडर माह के दौरान उनके 480 रन 80 के औसत और 99.37 के स्ट्राइक रेट से बने। अपनी पुरस्कार जीत पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए गिल ने कहा, “सितंबर महीने के लिए आईसीसी प्लेयर ऑफ द मंथ का पुरस्कार जीतकर मुझे खुशी हो रही है। अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भारत का प्रतिनिधित्व करना और टीम के हित में योगदान देना एक बड़ा सौभाग्य है। ये पुरस्कार मुझे उत्कृष्टता की तलाश जारी रखने और देश को गौरवान्वित करने के लिए प्रेरित करेगा।"

Also Read: Live Score

आगे बोलते हुए गिल ने कहा, “मैं उस टीम के लिए एक उपयोगी योगदान देने में कामयाब रहा, जिसे एशिया कप 2023 जीतने का सौभाग्य मिला और उसके बाद, सितंबर में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ वनडे सीरीज जीतने का सौभाग्य मिला। मैं इस अवसर पर अपने सभी साथियों, परिवार और कोचों को धन्यवाद देता हूं, जिनके बिना ये उपलब्धि संभव नहीं होती।"

Advertisement

Advertisement