"
X close
X close

सुनील गावस्कर ने बताया, वह मौजूदा टीम इंडिया के किस खिलाड़ी की तरह बनना चाहते थे

By Saurabh Sharma
Aug 23, 2020 • 17:55 PM

पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने सीमित ओवरों की क्रिकेट टीम के उपकप्तान और सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा की आक्रामकता की तारीफ करते हुए कहा है कि वह रोहित जैसा ही बल्लेबाज बनना चाहते थे। टेस्ट क्रिकेट में 10,000 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज गावस्कर ने इंडिया टूडे के कार्यक्रम में यह बात कही।

रोहित ने 2015 की शुरूआत के बाद से 97 वनडे पारियों में 62.36 के औसत से 95.44 के स्ट्राइक रेट से रन बनाए हैं। उनके नाम इस दौरान 24 शतक दर्ज हैं। वह वनडे क्रिकेट में तीन दोहरे शतक लगाने वाले दुनिया के अब तक के एकमात्र बल्लेबाज हैं।

Also Read: दिल्ली कैपिटल्स के खिलाड़ी आईपीएल 2020 के लिए पहुंचे यूएई, देखें तस्वीरें 

गावस्कर ने कहा, " जिस तरह से रोहित शर्मा वनडे में पारी की शुरूआत करते हैं और टेस्ट क्रिकेट में जिस तरह पहले ही ओवर से शॉट्स लगाने शुरू कर देते हैं। उसी तरह मैं भी खेलना चाहता था।"

उन्होंने कहा, " हालांकि उस समय जिस तरह के हालात थे उसकी वजह से और मुझे खुद पर भी इतना आत्मविश्वास नहीं था कि मैं तेजी से रन बना सकूं। इसलिए मैंने कभी इस तरह की बल्लेबाजी नहीं की। हालांकि जब मैं देखता हूं कि अब बल्लेबाज ऐसा करते हैं तो मुझे बहुत खुशी होती है।"

पूर्व भारतीय सलामी बल्लेबाज ने विराट कोहली की कप्तानी वाली मौजूदा भारतीय टीम की भी तारीफ की और उसे अब तक सर्वश्रेष्ठ टीम बताया।

गावस्कर ने आगे कहा, " मेरा मानना है कि वर्तमान टेस्ट टीम संतुलन, क्षमता, कौशल और जज्बे के मामले में अब तक की सर्वश्रेष्ठ भारतीय टीम है। मैं इससे बेहतर भारतीय टेस्ट टीम के बारे में नहीं सोच सकता।"

उन्होंने कहा, " इस टीम के पास ऐसा आक्रमण है जो किसी भी तरह की पिच पर मैच जीत सकता है। इस टीम को परिस्थितियों की मदद की जरूरत नहीं है। परिस्थितियां कैसी भी हों वे किसी भी विकेट पर मैच जीत सकते हैं। बल्लेबाजी के मामले में 1980 के दशक की टीमें भी काफी हद तक ऐसी ही थी, लेकिन उनके पास वैसे गेंदबाज नहीं थे जिसे विराट के पास हैं।"


क्रिकेट समाचार टेलीग्राम पर भी उपलब्ध है। यहां क्लिक करके आप सब्सक्राइब कर सकते हैं।