X close
X close
Indibet

VIDEO: मुस्कान बनी मायूसी, अंपायर ने बदल दिया हुड्डा को आउट देने का फैसला

दीपक हुड्डा को श्रीलंका के खिलाफ पहली गेंद पर जीवनदान मिला, लेकिन वह टीम को विस्फोटक अंदाज में फिनिश नहीं दे सके।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat September 06, 2022 • 22:58 PM

करो या मरो के मुकाबले में भारत ने श्रीलंका के सामने 174 रनों का लक्ष्य रखा है। इस मैच में इंडियन टीम का मिडिल ऑर्डर फ्लॉप नज़र आया। ऑलराउंडर के तौर पर टीम में शामिल किए गए दीपक हुड्डा ने भी महज़ 3 रन बनाए, लेकिन हु्ड्डा की पारी के दौरान एक ऐसी घटना भी घटी जब अंपायर के फैसले ने लंकाई टीम का दिल तोड़ दिया और विपक्षी खेमे के चेहरे पर आई मुस्कान मायूसी में बदल गई।

दरअसल इस मैच में दीपक हुड्डा की पारी शुरू होते ही खत्म हो चुकी थी। जी हां, दसुन शनाका ने हुड्डा को पहली ही गेंद पर फंसाकर फील्डर के हाथों कैच आउट करवाया था। दीपक अहम मुकाबले में गोल्डन डक पर आउट हो चुके थे, लेकिन इसके बाद अंपायर ने नो बॉल की शंका जताई और थर्ड अंपायर की तरफ रूख करते हुए नो बॉल चेक करने का संकेत किया। 

Trending


इस ओवर में दसुन शनाका एक बाउंसर फेंक चुके थे, ऐसे में इस ओवर में दूसरी बाउंसर नो बॉल के तौर पर आउंट होती। थर्ड अंपायर ने बड़ी स्क्रीन पर रिप्ले देखा और साफ तौर पर बॉल को काफी ऊंचा पाया। यही वह कारण था जिस वज़ह से दीपक हुड्डा पहली गेंद पर आउट होने से बच गए और अंपायर ने बल्लेबाज़ को नॉट आउट करार दिया। ऐसे में लंकाई खेमे के चेहरे पर आई मुस्कान कुछ ही पलों में मायूसी में बदल गई। हालांकि दीपक हुड्डा इसके बावजूद भी एम्पेक्ट नहीं छोड़ सके और तीन रन बनाकर पवेलियन लौटते बने।

Also Read: Asia Cup 2022 Scorecard

बता दें कि इस मैच में भारतीय टीम के लिए कप्तान रोहित शर्मा ने सबसे ज्यादा 72 रनों की पारी खेली। रोहित के अलावा सूर्यकुमार यादव ने 34 रन बनाए, लेकिन टीम का मिडिल ऑर्डर अपनी ताकत पर बल्लेबाज़ी नहीं कर सका जिसकी वज़ह से टीम का टोटल 173 रनों पर थम गया।    


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now