Advertisement
Advertisement

इतनी खराब फॉर्म के बाद भी पुजारा-रहाणे टीम में क्यों? जानिए वजह

भारत और साउथ (SAvsIND) के बीच पहला टेस्ट सेंचुरियन में खेला जा रहा है। टेस्ट क्रिकेट में बीते कुछ समय में भारत का मीडिल ऑर्डर काफी कमजोर नज़र आया है, जिसका बड़ा कारण टीम के एक्सपीरियंस बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे (Ajinkya

Nishant Rawat
By Nishant Rawat December 30, 2021 • 13:33 PM
Cricket Image for इतनी खराब फॉर्म के बाद भी पुजारा-रहाणे टीम में क्यों? जानिए वजह
Cricket Image for इतनी खराब फॉर्म के बाद भी पुजारा-रहाणे टीम में क्यों? जानिए वजह (Rahane And Pujara (Image Source: Google))
Advertisement

भारत और साउथ (SAvsIND) के बीच पहला टेस्ट सेंचुरियन में खेला जा रहा है। टेस्ट क्रिकेट में बीते कुछ समय में भारत का मिडिल ऑर्डर काफी कमजोर नज़र आया है, जिसका बड़ा कारण टीम के एक्सपीरियंस बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे (Ajinkya Rahane) और चेतेश्वर पुजारा (Cheteshwar Pujara) की खराब फॉर्म रही है, लेकिन इसके बावजूद इन दोनों ही बल्लेबाजों को सेंचुरियन टेस्ट में मौका दिया गया था।

भारतीय टीम के एक्सपीरियंस बल्लेबाज अजिंक्य रहाणे और चेतेश्वर पुजारा के लिए ये पूरा साल ही मुश्किल भरा रहा है और दोनों ही बल्लेबाज रनों की लिए संघर्ष करते नज़रआए हैं। साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेली जा रही टेस्ट सीरीज में टीम में श्रेयस अय्यर और हनुमा विहारी को भी शामिल किया गया है, लेकिन पहले टेस्ट में मौका अनुभवी बल्लेबाजो को दिया गया। इसके बावजूद दोनों ही खिलाड़ियों ने फ्लॉप शो दिखाया है। हालांकि रहाणे ने पहली इनिंग में 48 रनों की पारी जरूर खेली थी। ऐसे में सभी के मन में सवाल होगा कि आखिर ये दोनों खिलाड़ी प्लेइंग इलेवन में शामिल क्यों है? अब भारतीय टीम के पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज दीप दासगुप्ता ने ये इस मुश्किल सवाल का जवाब दिया है।  

Trending


उन्होंने रहाणे और पुजारा पर बात करते हुए ईएसपीएन क्रिकइंफो के यूट्यूब चैनल पर कहा कि "दोनों बल्लेबाज अच्छे दिखे हैं हालांकि उन्होंने बड़े रन नहीं बनाए हैं। ये हालात (साउथ अफ्रीका) बल्लेबाजी के लिए काफी मुश्किल है और भारत एक एतिहासिक सीरीज जीत के कगार पर है तो कहीं ना कहीं भारत को पुजारा और रहाणे के एक्सपीरियंस से मदद मिलेगी। उन्होंने आगे कहा कि सीरीज में दोनों ठीक दिखे हैं, खासकरअजिंक्य रहाणे ने अच्छा किया है तो उन्हें कम से कम एक और टेस्ट में रखना ही चाहिए।'

इस पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने ये भी कहा कि 'भारत ने सही समय पर पारी को खत्म किया है, क्योंकि अगर साउथ अफ्रीका से कोई एक शतक और एक अर्धशतक बना लेता है तो भारत के लिए मैच थोड़ा मुश्किल हो जाएगा। इसलिए भारत ने जहां पर पारी को छोड़ा है बिल्कुल सही छोड़ा है। यहां से अगर बारिश भी होती है, तो उम्मीद है कि भारत 50-60 ओवर निकाल ही लेगा।'

Also Read: Ashes 2021-22 - England vs Australia Schedule and Squads

जानकारी के लिए बता दें कि इस साल अजिंक्य रहाणे ने टेस्ट की 23 इनिंग में 20.82 की बेहद खराब औसत से सिर्फ 479 रन बनाए हैं। वहीं चेतेश्वर पुजारा ने 14 मैचों की 26 पारियो में 28.08 की औसत से सिर्फ 702 रन ही बनाए हैं।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement
Advertisement