X close
X close
Indibet

IPL : ब्रावो से दोस्ती ने कीरोन पोलार्ड को मुंबई इंडियंस के साथ जोड़ा था

ड्वेन ब्रावो और कीरोन पोलार्ड की दोस्ती वर्ल्ड क्रिकेट में प्रसिद्ध है, लेकिन कम ही लोगों को पता है कि मुंबई इंडियंस के साथ कीरोन पोलार्ड को जोड़ने के पीछे कोई और नहीं बल्कि ब्रावो का ही हाथ था।

By Charanpal Singh Sobti April 26, 2022 • 12:08 PM View: 1250

Kieron Pollard & Dwayne Bravo: पिछले दिनों, इस सीजन की एक वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हुई- इसमें ब्रावो को, एक मैच के दौरान मुलाकात में, कीरोन पोलार्ड सामने सम्मान से, झुकते  दिखाया। ड्वेन ब्रावो और कीरोन पोलार्ड- दोनों खिलाड़ी केरेबियन से, काफी अच्छे दोस्त और वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम की जान और शान। न सिर्फ इस वीडियो- इंटरनेशनल क्रिकेट से रिटायर होने के अपने फैसले के लिए भी पोलार्ड ख़बरों में रहे। इस रिश्ते में एक समीकरण और है जो इसे ख़ास बना देता है।  

ड्वेन ब्रावो आईपीएल में पहले आए थे- 2008 के पहले सीजन में ही खेलना शुरू कर दिया था। कीरोन पोलार्ड ने खेलना शुरू किया 2010 सीजन से। आईपीएल में ज्यादातर एंट्री, सीजन से पहले के नीलाम से ही हुईं- पर कुछ एंट्री ऐसी भी हैं, जिनमें किसी एक ख़ास खिलाड़ी के लिए तो टीम ने तय कर ही लिया था कि उसे तो किसी भी कीमत पर खरीदना ही है। कीरोन पोलार्ड की आईपीएल में एंट्री ऐसी ही थी और आपको ये जानकार हैरानी होगी कि मुंबई इंडियंस के उन्हें 'किसी भी कीमत पर खरीदने' की जिद के पीछे और कोई नहीं, यही ड्वेन ब्रावो जिम्मेदार थे। कीरोन पोलार्ड का मुंबई टीम में आना एक मजेदार स्टोरी है।  

Trending


कीरोन पोलार्ड को एक बार मुंबई इंडियंस ने खरीदा तो उसके बाद छोड़ा ही नहीं- 2010 से वे एक ही टीम के लिए खेल रहे हैं। ब्रावो का आईपीएल करियर मुंबई इंडियंस के लिए शुरू हुआ और 2010 तक उनके लिए खेले। मुंबई इंडियंस के लिए खेलते हुए ही ब्रावो ने टीम थिंक टैंक को युवा पोलार्ड के बारे में बताना शुरू कर दिया था और चाहा था कि टीम 2009 में ही उन्हें खरीदे। ऐसा बहरहाल हो नहीं पाया। 

2009 में चैंपियंस लीग टी 20 टूर्नामेंट भारत में था। उसमें खेलने आए कीरोन पोलार्ड, केरेबियन टीम त्रिनिदाद एंड टोबेगो की तरफ से- ये टीम फाइनल खेली थी उस सीजन में। टाइटल तो नहीं जीत पाए पर आईपीएल टीमों ने तब पोलार्ड के टेलेंट को देख लिया था। कीरोन पोलार्ड ने 5 पारी में 146 रन (8 चौके, 14 छक्के) बनाए 197+ स्ट्राइक रेट से। और क्या सबूत चाहिए था? ब्रावो ने फिर से मुंबई इंडियंस को जगाया- यहां तक कि टीम के प्रतिनिधि को मैच के दिन, कीरोन पोलार्ड से मिलने नागपुर भी भिजवाया। उसी मुलाक़ात में, मुंबई की तरफ से कीरोन पोलार्ड को कहा गया था कि वे अपना बेस प्राइस 2 लाख डॉलर रखें- इस, कम से कम, कीमत पर उन्हें खरीदने का वायदा भी कर दिया था। 19 साल के पोलार्ड ने 200,000 अमेरिकी डॉलर का कॉन्ट्रैक्ट देखा तो हैरान रह गए।

2009 चैंपियंस लीग टी 20 और बिग बैश में पोलार्ड के प्रभावशाली प्रदर्शन ने उन्हें 2010 की आईपीएल नीलामी में सबसे अधिक मांग वाले खिलाड़ियों में से एक बना दिया। सिर्फ मुंबई इंडियंस ही नहीं, ऐसा लग रहा था कि हर टीम उन्हें चाहती है। शुरू से बड़ी बिड और चेन्नई सुपर किंग्स, कोलकाता नाइट राइडर्स, मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर में से कोई भी रुकने का नाम ही नहीं ले रहा था। आखिर में  पोलार्ड को 750,000 डॉलर का कॉन्ट्रैक्ट दिया मुंबई इंडियंस ने 'साइलेंट-टाईब्रेकर' में। पोलार्ड तब आईपीएल के सबसे महंगे खिलाड़ियों में से एक बने थे। ये साइलेंट- टाईब्रेकर क्या है? वास्तव में वे टीम को कितने के पड़े और इसमें तब क्या तमाशा हुआ था- ये एक अलग स्टोरी है। बहरहाल मुंबई इंडियंस का थिंक-टैंक जिस इरादे से नीलाम में आया था- वह पूरा कर लिया।  

कीरोन पोलार्ड का मुंबई इंडियंस के लिए पहला मैच : 17 मार्च 2010 को दिल्ली डेयरडेविल्स के विरुद्ध फ़िरोज़ शाह कोटला में। टूर्नामेंट के शुरू में कुछ जूझे पर बाद में कीमत वसूल करा दी। सेमीफाइनल में रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के विरुद्ध 13 गेंदों में 3 छक्कों की मदद से 33* रन, 3 विकेट और 1 रन आउट। उन्हें मैन ऑफ़ द मैच चुना और मुंबई इंडियंस पहली बार फाइनल में- आखिर में चेन्नई सुपर किंग्स से हार गए।  

पोलार्ड का डेब्यू सीज़न में प्रदर्शन : 14 मैचों में 15 विकेट के साथ-साथ 273 रन।

Also Read: आईपीएल 2022 - स्कोरकार्ड

उस दिन के बाद से पोलार्ड मुंबई इंडियंस टीम की पहचान बन गए और आईपीएल में सिर्फ एक टीम के लिए खेले खिलाड़ियों में उनसे ज्यादा मैच सिर्फ विराट कोहली के नाम हैं। 25 अप्रैल 2022 तक रिकॉर्ड : 186 मैच, 3383 रन ,16 फिफ्टी और 148+ स्ट्राइक रेट। 68 विकेट भी।

IB

Win Big, Make Your Cricket Prediction Now