X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

वर्ल्ड कप में श्रीलंका के सामने बांग्लादेश की चुनौती, कैसी होगी दोनों टीमों की प्लेइंग XI ( मैच प्रिव्यू)

by Vishal Bhagat Jun 10, 2019 • 17:29 PM

10 जून। अपने पहले मैच में साउथ अफ्रीका को मात देने वाली बांग्लादेश को इसके बाद लगातार दौ हार का सामना करना पड़ा। आईसीसी विश्व के अपने अगले मैच में मंगलवार को उसका सामना श्रीलंका से होगा।दोनों टीमें यहां के काउंटी ग्राउंड पर आमने-सामने होंगी। 

वहीं श्रीलंका, बांग्लादेश के खिलाफ अपने विजयी क्रम को बरकरार रखना चाहेगी। उसे इस विश्व कप के अपने पहले मैंच में न्यूजीलैंड के हाथों करारी हार का सामना करना पड़ा था। दूसरे मैच में हालांकि उसने अफगानिस्तान को मात दे जीत का खाता खोला था। उसका तीसरा मैच पाकिस्तान से था जो बारिश के कारण हो नहीं सका था। 

बांग्लादेश के चुनौती उसके लिए आसान नहीं रहेगी क्योंकि अगर दोनों टीमों की मौजूदा स्थिति और मौजूदा फॉर्म के बार में बात की जाए तो बांग्लादेश काफी बेहतर स्थिति में है। 

श्रीलंका की समस्या यह है कि वह अपनी गेंदबाजी और बल्लेबाजी में दोनों में स्थिरता के लिए तरस रही है। कोई ऐसा बल्लेबाज या गेंदबाज उसके पास नहीं है जो टीम को आगे ले जा सके।

न्यूजीलैंड के खिलाफ कप्तान दिमुथ करुणारत्ने ने जरूर अर्धशतकीय पारी खेली थी लेकिन दूसरे छोर से कोई साथी विकेट पर पैर नहीं जमा सका था। 

ऐसा नहीं है कि टीम के पास अच्छे बल्लेबाज नहीं है लेकिन अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर वह अपने प्रभाव नहीं छोड़ पाए हैं। बल्लेबाजी में एक बार फिर जिम्मेदारी करुणारत्ने की होगी। वे उम्मीद करेंगे कि अविश्का गुणारत्ने, धनंजय डी सिल्वा, कुशल मेंडिस, कुशल परेरा और खासकर एंजेलो मैथ्यूज से अच्छी पारियों की उम्मीद होगी।

गेंदबाजी में टीम का दारोमदार लसिथ मलिंगा पर होगा, लेकिन उनकी फॉर्म चिंता का विषय है। अफगानिस्तान के खिलाफ नुवान प्रदीप ने अच्छी गेंदबाजी की थी। उनसे भी टीम प्रबंधन उसी तरह के प्रदर्शन की उम्मीद लगाए बैठा होगा। 

वहीं अगर बांग्लादेश की बात की जाए तो उसकी बल्लेबाजी मजबूत दिख रही है लेकिन गेंदबाजी में उतना पैनापन नजर नहीं आ रहा है। 

तमीम इकबाल और सौम्य सरकार की सलामी जोड़ी टीम को सधी शुरुआत दे रही है तो वहीं शाकिब अल हसन नंबर-3 की नई भू्मिका में सफलता हासिल कर रहे हैं। नंबर-4 पर आने वाले मुश्फीकुर रहीम शाकिब का अच्छा साथ दे रहे हैं यह दोनों मिलकर टीम के मध्य क्रम को मजबूत बनाए रखा हैं। 

इन चारों के बाद महामदुल्लाह, मोसाद्देक हुसैन और मशरफे मुर्तजा तेजी से रन बना सकते हैं लेकिन निरंतरता का कमी से जूझ रहे हैं। 

गेंदबाजी में कप्तान मुर्तजा को ज्यादा प्रयोगों से बचना होगा। इंग्लैंड के खिलाफ पिछले मैच में नई गेंद से मुस्ताफीजुर रहमान को रोकना उन्हें भारी पड़ गया था। रहमान टीम के मुख्य तेज गेंदबाज हैं। वहीं रुबेल हुसैन को अंदर लाकर इस मैच में बांग्लादेश अपनी गेंदबाजी मजबूत कर सकती है। अगर रुबेल टीम में आते हैं तो मोहम्मज सैफउद्दीन को बाहर जाना पड़ सकता है। 

टीमें (सम्भावित) : 

अफगानिस्तान : गुलबदीन नैब (कप्तान), नूर अली जादरान, हजरतुल्लाह जादरान, असगर स्टानिकजाई, हजरतुल्लाह जाजई, हसमतुल्लाह जादरान, राशिद खान, दौलत जादरान, अफताब आलम, हामिस हसन, मुजीब उर रहमान, रहमत शाह, समिउल्लाह शिनवारी, मोम्मद नबी, मोहम्मद शाहजाद। 

बांग्लादेश : मशरफे मुर्तजा (कप्तान), तमीम इकबाल, सौम्य सरकार, शब्बीर रहमान, रुबेल हुसैन, मुस्तफिजुर रहमान, अबु जायेद, महामदुल्लाह, मोहम्मद सैफुद्दीन, मोसद्दक हुसैन, शाकिब अल हसन, मेहेदी हसन, लिटन दास (विकेटकीपर), मुश्फीकुर रहीम (विकेटकीपर), मोहम्मद मिथुन।