X close
X close

प्लेऑफ के रस्ते में पंजाब की टक्कर धोनी के धुरंधरों से, देखें दोनों टीमों का संभावित प्लेइंग XI

By Shubham Shah
Oct 31, 2020 • 19:22 PM

एम एस धोनी की कप्तानी वाली चेन्नई सुपर किंग्स आईपीएल के 13वें सीजन की प्लेऑफ रेस से पहले ही बाहर हो गई है, लेकिन उसने अपने पिछले दो मैचों में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर और कोलकाता नाइट राइडर्स को मात दे उनका गणित बिगाड़ दिया है। शेख जायेद स्टेडियम में रविवार को चेन्नई के सामने किंग्स इलेवन पंजाब होगी। पंजाब को प्लेऑफ में जाने के लिए चेन्नई से सावधान रहना होगा।

निश्चित तौर पर पंजाब के पास जीत ही एक विकल्प है, लेकिन उसे साथ ही कोशिश बेहतर नेट रन रेट के साथ जीतने की करनी होगी तभी उसकी प्लेऑफ की दावेदारी मजबूत होगी।

Also Read: सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने टॉस जीतकर लिया गेंदबाजी का फैसला, देखें दोनों टीमों का प्लेइंग XI

इस समय पंजाब 13 मैचों में से छह जीत और सात हार के साथ 12 अंक लेकर चौथे स्थान पर है। उसे शुक्रवार को राजस्थान रॉयल्स ने मात दी थी और अब वह चेन्नई के खिलाफ मैच जीतती भी है तो 14 अंक तक ही पहुंच पाएगी। ऐसे में नेट रन रेट काफी मायने रखेगा क्योंकि बाकी की टीमें भी 14 अंकों के साथ लीग चरण के अंत का रूख कर सकती हैं।

राजस्थान के खिलाफ मिली हार के बाद यह लगभग तय है कि पंजाब बेहतर नेट रन रेट के बिना प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई शायद ही कर पाए। इसलिए पंजाब के लिए जरूरी है वह चेन्नई के खिलाफ बड़ी जीत हासिल करे।

ऐसा मुमकिन क्योंकि क्रिस गेल अपने तूफानी अंदाज में लौट आए हैं। राजस्थान के खिलाफ भी उन्होंने 99 रनों की पारी खेली थी। इससे पहले भी वह अपनी फॉर्म दिखा चुके हैं। कप्तान लोकेश राहुल तो शुरू से ही फॉर्म में हैं। मयंक अग्रवाल चेन्नई के खिलाफ खेलेंगे या नहीं यह कल ही साफ हो पाएगा।

इन सभी के अलावा निकोलस पूरन टीम के एक और ऐसे बल्लेबाज हैं जो टी-20 की जरूरत के हिसाब से रन बना सकते हैं।

गेंदबाजी में मोहम्मद शमी, अर्शदीप सिंह और क्रिस जोर्डन को अब और ज्यादा जिम्मेदारी से खेलना होगा। कोशिश करनी होगी कि वह चेन्नई के बल्लेबाजों को, खासकर ऊपरी क्रम को, जल्दी पवेलियन लौटाएं। रवि बिश्नोई और मुरुगन अश्विन की जोड़ी मध्य क्रम के साथ यह आसानी से करने का दम रखती है। पंजाब के लिए यह समय है जब उसके खिलाड़ी अतिरिक्त प्रयास कर बड़ी जीत सुनिश्चित करें।

चेन्नई का भी यह लीग चरण का आखिरी मैच है। तीन बार की विजेता का लक्ष्य आत्मसम्मान बचा, जीत के साथ लीग का अंत करने का होगा।

ऋतुराज गायकवाड़ ने पिछले दो मैचों में जिस तरह की बल्लेबाजी की है वह टीम को जीत दिलाने में सफल रही है। फाफ डु प्लेसिस पिछले मैच में नहीं खेले थे। शेन वाटसन की वापसी हुई थी। वाटसन एक या दो मौकों पर ही रन बना पाए हैं। अंतिम मैच में धोनी किस प्लेइंग-11 के साथ उतरेंगे यह देखना दिलचस्प होगा।

गेंदबाजी में दीपक चहर और शार्दूल ठाकुर का नाम तो पक्का है। सैम कुरैन का खेलना भी तय है। बाकी और कौन से खिलाड़ी आखिरी मैच में चेन्नई की जर्सी पहनते हैं यह मैच के दिन ही पता चलेगा।

दोनों टीमों का संभावित प्लेइंग इलेवन:

चेन्नई सुपर किंग्स - रुतुराज गायकवाड़, शेन वॉटसन, अंबाती रायडू, एमएस धोनी (कप्तान व विकेटकीपर), एन जगदीसन, सैम कुरेन, रवींद्र जडेजा, मिशेल सेंटनर, कर्ण शर्मा, दीपक चाहर, लुंगी नगिडी

किंग्स इलेवन पंजाब - केएल राहुल (कप्तान व विकेटकीपर), मनदीप सिंह, क्रिस गेल, निकोलस पूरन, ग्लेन मैक्सवेल, दीपक हुड्डा / मयंक अग्रवाल, क्रिस जॉर्डन, मुरुगन अश्विन, रवि बिश्नोई, मोहम्मद शमी, अर्शदीप सिंह