भारतीय बल्लेबाज के तौर पर कोहली ने तोड़े ये विराट रिकॉर्ड
X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

कोहली ने 160 रन की पारी खेलकर साउथ अफ्रीकी धरती पर तोड़ दिए कई विराट रिकॉर्ड

by Vishal Bhagat Feb 07, 2018 • 21:22 PM

केपटाउन, 7 फरवरी | कप्तान विराट कोहली ने बल्ले से अपने शानदार फॉर्म को जारी रखते हुए तीसरे वनडे में बुधवार को न्यूलैंडस मैदान पर अपने वनडे करियर का 34वां शतक जड़ा और इसी की बदौलत भारत ने मेजबान दक्षिण अफ्रीका के सामने 304 रनों का लक्ष्य रखा। कोहली के शतक के अलावा सलामी बल्लेबाज शिखर धवन के 76 रनों के दम पर भारत ने निर्धारित 50 ओवरों में छह विकेट खोकर 303 रनों का स्कोर खड़ा किया। लाइव स्कोर

धवन और कोहली ने दूसरे विकेट के लिए 140 रनों की साझेदारी की। धवन के आउट होने के बाद भारत ने कुछ विकेट लगातार खो दिए और लग रहा था कि मेहमान टीम बड़े स्कोर से महरूम रह जाएगी, लेकिन कप्तान ने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया और एक छोर पर खड़े रहते हुए अपनी टीम को मजबूत स्कोर प्रदान किया। कोहली ने अपनी नाबाद पारी में 159 गेंदों का सामना किया और 12 चौकों के अलाव दो छक्के लगाए। 

कोहली ने धवन के जाने के बाद अपना शतक पूरा किया। यह कप्तान के तौर पर उनका 12वां शतक है। इसी के साथ वह सबसे ज्यादा शतक लगाने वाले भारतीय कप्तान बन गए हैं। कोहली ने साथ ही इस मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे में अपने 1000 रन पूरे किए। 

टॉस जीतकर, बल्लेबाजी का आमंत्रण मिलने पर पहली पारी खेलने उतरी भारत को एक बार फिर अच्छी शुरुआत नहीं मिली। रोहित शर्मा एक बार फिर बल्ले से विफल रहे और बिना और खाता खोले पवेलियन लौट लिए। 

लेकिन इसके बाद कोहली और धवन की जोड़ी ने मेजबान टीम के गेंदबाजों को 24वें ओवर तक विकेट के लिए तरसा दिया। इस जोड़ी ने आसानी से दक्षिण अफ्रीकी गेंदबाजों का सामना किया और लगातार रन बनाते रहे। 

विकेट न मिलता देख दक्षिण अफ्रीकी कप्तान एडिन मार्कराम ने पार्ट टाइम गेंदबाज ज्यां पॉल ड्यूमिनी को लगाया और उन्होंने धवन की पारी का अंत किया। ड्यू्मिनी की गेंद पर धवन मार्कराम के हाथों लपके गए। धवन ने 63 गेंदें खेलीं और 12 चौके लगाए। 

अजिंक्य रहाणे (11) को भी ड्यूमिनी ने पवेलियन भेजा। हार्दिक पांड्या 14 रन ही बना सके और क्रिस मौरिस की गेंद पर विकेट के पीछे हेइनरिक क्लासेन के हाथों लपके गए। 

महेंद्र सिंह धौनी (10) से उम्मीद थी की वह कोहली का साथ देंगे, लेकिन एक बड़ा शॉट लगाने के प्रयास में वह सीमा रेखा के पास आंदिले फेहुलकवायो के हाथों लपके गए। 

केदार जाधव एक रन ही बना सके। यहां से लगा कि भारत बड़ा स्कोर नहीं बना पाएगा, लेकिन कोहली ने भुवेश्वर कुमार (नाबाद 16) के साथ सातवें विकेट के लिए 67 रनों की साझेदारी कर भारत तो मजबूत स्कोर दिया। इस साझेदारी में कोहली ने अकेले 25 गेंदों में 43 रन बनाए। 

दक्षिण अफ्रीका के लिए ज्यां पॉल ड्यूमिनी ने दो विकेट लिए। कागिसो राबादा, क्रिस मौरिस,आंदिले फेहलुकवायो, इमरान ताहिर को एक-एक सफलता मिली।