X close
X close

पूर्व कप्तान कपिल देव ने कहा, अगर धोनी सिर्फ IPL खेलेंगे तो उनके लिए अच्छा प्रदर्शन कर पाना असंभव

By Saurabh Sharma
Nov 03, 2020 • 11:03 AM

आईपीएल 2020 कप्तान एमएस धोनी (MS Dhoni) और उनकी टीम चेन्नई सुपर किंग्स (Chennai Super Kings) खूब चर्चा में रही। चेन्नई की टीम आईपीएल के इतिहास में पहली बार प्लेऑफ में क्वालीफाई नहीं कर पाई और धोनी का बल्ला भी शांत रहा। 14 मैचों में 116 की स्ट्राइक रेट से उनके बल्ले से सिर्फ 200 रन निकले। हालांकि चेन्नई के आखिरी मैच में धोनी ने फैंस को ये बताकर खुश होने का मौका दिया कि वह आईपीएल 2021 में भी खेलेंगे। 

भारत के पहले वर्ल्ड कप विनिंग कप्तान कपिल देव (Kapil Dev) ने धोनी के सीजन बल्लेबाजी में फ्लॉप होने को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा अगर धोनी सिर्फ आईपीएल खेलेंगे तो उनके लिए प्रदर्शन कर पाना मुश्किल होगा। उन्हें अपनी फॉर्म वापस हासिल करने के लिए घरेलू क्रिकेट खेलना होगा। 

Also Read: IPL में धोनी के भविष्य को लेकर बोले कपिल देव, कहा-'फर्स्ट क्लास क्रिकेट में लौटें वरना...'

कपिल ने एबीपी न्यूज से कहा, " अगर धोनी हर साल सिर्फ आईपीएल खेलने का फैसला करते हैं, तो उनके लिए प्रदर्शन करना असंभव होगा। उम्र के बारे में बात करना अच्छी बात नहीं है, लेकिन उनकी उम्र (39 वर्ष) में, वह जितना अधिक खेलेंग उनका शरीर उतनी लय में रहेगा।”

" अगर आप एक साल में 10 महीने क्रिकेट नहीं खेलते और अचानक आईपीएल खेलते हैं, आप देख सकते हैं कि क्या हुआ। अगर आप बहुत ज्यादा क्रिकेट खेलते हैं तो आपका एक सीजन ऊपर-नीचे हो सकता है।  ऐसा क्रिस गेल जैसे खिलाड़ी के साथ भी हो सकता है।”

कपिल का मानना है कि धोनी को अपनी फॉर्म हासिल करने के लिए इस साल थोड़ा घरेलू क्रिकेट खेलने की जरूरत है। 

कपिल ने कहा, " उन्हें (धोनी) वापस जाकर फर्स्ट क्लास क्रिकेट खेलना चाहिए। अगर किसी ने इतना सब हासिल किया है, तो फॉर्म में गिरावट प्रभावित करती है और यह एक चुनौती बन जाती है। देखते हैं कि धोनी इससे कैसे वापसी करते हैं।”