X close
X close
Indibet

रॉबिन उथप्पा करना चाहते थे आत्महत्या, बालकनी से कूदकर देना चाहते थे जान

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma
July 01, 2021 • 18:16 PM View: 650

टी-20 वर्ल्ड कप 2007 में टीम इंडिया का हिस्सा रहे रॉबिन उथप्पा (Robin Uthappa) ने अपनी लाइफ से जुड़े कई ऐसे राज का खुलासा किया है जिसे बेहद ही कम लोग जानते हैं। रॉबिन उथप्पा ने बताया है कि वह दो साल तक डिप्रेशन में रहे थे। रॉबिन उथप्पा ने यह तक बताया कि उनके हालात इतने खराब हो गए थे कि उनके मन में आत्महत्या तक का ख्याल आने लगा था।  

जी न्यूज में छपी खबर के अनुसार रॉबिन उथप्पा ने कहा, 'मैं सोचता था कि इस दिन कैसे रहूंगा और अगला दिन मेरा कैसा होगा। मेरे जीवन में क्या हो रहा है और मैं किस दिशा में आगे जा रहा हूं। मैच से इतर दिनों या ऑफ सीजन में मुझे बड़ी दिक्कत होती थी। मैं उन दिनों इधर-उधर बैठकर यही सोचता था कि मैं दौड़कर जाऊं और बालकनी से कूद जाऊं।'

Trending


रॉबिन उथप्पा ने आगे कहा, 'लेकिन किसी चीज ने मुझे रोके रखा था। क्रिकेट ने इन बातों को मेरे जेहन से निकाला। मैंने एक इंसान के तौर पर खुद को समझने की प्रक्रिया शुरू की और कोशिश की कि अपने जीवन में थोड़ा बदलाव ला सकूं। हम कई बार स्वीकार नहीं करना चाहते कि हमें कोई मानसिक परेशानी है।'

रॉबिन उथप्पा ने कहा, 'मुझे अपने नकारात्मक अनुभवों का कोई मलाल नहीं है क्योंकि इससे मुझे सकारात्मकता महसूस करने में मदद मिली। नकारात्मक चीजों का सामना करके ही आप सकारात्मकता में खुश रह सकते हैं।' बता दें कि रॉबिन उथप्पा ने भारत के लिए 46 वनडे और 13 टी20 इंटरनेशनल मैच खेले हैं। 


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo