X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

IND vs AUS: क्रुणाल पांड्या का खुलासा,पहले टी-20 में हार के बाद टीम इंडिया में है ऐसा माहौल

by Saurabh Sharma Feb 26, 2019 • 17:52 PM

बेंगलुरू, 26 फरवरी (CRICKETNMORE)| भारतीय टीम के हरफनमौला खिलाड़ी क्रुणाल पांड्या ने कहा है कि पहले टी-20 मैच में ऑस्ट्रेलिया से मिली हार के बाद भी टीम सकारात्मक है और सीरीज बराबरी के लिए अपना सौ फीसदी देने को तैयार है। भारत को पहले मैच में करीबी मुकाबले में हार मिली थी। अब दोनों टीमें बुधवार को दूसरे मैच में एम. चिन्नास्वामी स्टेडियम में आमने-सामने होंगी। 

मैच से पहले संवाददाता सम्मेलन में पांड्या ने कहा, "इतिहास बताता है कि ऑस्ट्रेलिया हमेशा से अच्छी टीम रही है। वह हमेशा अपना 100 फीसदी देते हैं। हम सिर्फ अपने प्रदर्शन पर ध्यान दे रहे हैं। हम जानते हैं कि ऑस्ट्रेलिया अच्छी टीम है और हमें उनके सामने अपना सर्वश्रेष्ठ देना होगा।"

पांड्या ने कहा, "आप जब भारत के लिए खेलते हो तो हर मैच अहम होता है। इसलिए यह मैच भी अहम है। हम इस सीरीज में 0-1 से पीछे हैं इसलिए हम निश्चित तौर पर सीरीज में बराबरी करना चाहेंगे। हम हर मैच जीतने जाते हैं लेकिन यह क्रिकेट जो अनिश्चित्ताओं का खेल है।"

पांड्या के मुताबिक, "हम जब भी मैदान पर जाते हैं जीतने के लिए ही जाते हैं, लेकिन हम लगातार मैच नहीं हार रहे हैं। हम काफी दिनों बाद मैच हारे हैं। भारतीय टीम का माहौल अच्छा है और कल के मैच के अलावा हम वनडे सीरीज में भी अच्छी लय के साथ जाएंगे।" 

पांड्या को उम्मीद है कि चिन्नास्वामी की विकेट पर विशाखापट्टनम की विकेट से ज्यादा रन बनेंगे। 

उन्होंने कहा, "यहां कि विकेट अच्छी लग रही है। हमें इस विकेट पर विशाखापट्टनम से ज्यादा रन बनने की उम्मीद है। मैं यह नहीं सोच रहा हूं कि मुझे कहां बल्लेबाजी करना चाहिए या किस समय बल्लेबाजी करनी चाहिए। मेरे हाथ में सिर्फ अच्छा प्रदर्शन करना है। मैं चाहे किसी भी नंबर पर जाऊं सात, आठ, मैं सिर्फ टीम में अपना योगदान देना चाहता हूं।" 

पांड्या ने कहा कि उन्हें खुशी है कि पहले मैच में टीम ने 127 के लक्ष्य का लगभग बचाव कर लिया था। 

बाएं हाथ के गेंदबाज ने कहा, "उन्होंने पहले अच्छी गेंदबाजी की। उन्होंने हमें 126 के कुल स्कोर पर रोक दिया उनकी बल्लेबाजी को लेकर मैं कहूंगा कि हमने अच्छी गेंदबाजी की साथ ही उनके कुछ विकेट भी गिरा दिए थे। उनके कुछ बल्लेबाज रन आउट हो गए थे। हमने ऐसी उम्मीद नहीं की थी। हमने लगभग 127 का लक्ष्य बचा लिया था, लेकिन हम शायद थोड़ा दुर्भाग्यशाली रहे।"

पांड्या ने अपनी टीम के गेंदबाजों की तारीफ की और कहा, "गेंदबाजी ईकाई के तौर पर यह अच्छा प्रदर्शन था। हर किसी ने अपना योगदान दिया। गेंदबाजी को लेकर हम सकारात्मक हैं, हां बल्लेबाजी को लेकर हमें थोड़ा सावधान रहने की जरूरत है।"