X close
X close

तेवतिया और रियान पराग के विस्फोट से राजस्थान ने रोमांचक मुकाबले में हैदराबाद को 5 विकेट से हराया

By Shubham Shah
Oct 11, 2020 • 20:20 PM

सनराइजर्स ने पहले बल्लेबाजी करते हुए मनीष पांडे (54 रन, 44 गेंद, 2 चौके, 3 छक्के) के अर्धशतक के दम पर 20 ओवरों में चार विकेट खोकर 158 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करते हुए राजस्थान ने एक समय अपने पांच विकेट 78 रनों पर ही खो दिए थे। यहां से तेवतिया ने एक बार फिर अपना चमत्कारी रूप दिखाया और इस बार उन्हें साथ मिला रियान पराग का। दोनों ने मिलकर छठे विकेट के लिए 85 रनों की साझेदारी कर एक गेंद पहले राजस्थान को पांच विकेट से जीत दिला दी।

इस सीजन में पहली बार खेल रहे बेन स्टोक्स को राजस्थान ने जोस बटलर के साथ पारी की शुरुआत करने भेजा। स्टोक्स (5) यहां सलामी बल्लेबाज के तौर पर विफल रहे। उन्हें खलील अहमद ने आउट किया।

Also Read: IPL 2020: 3डी बायोमैकेनिकल स्क्रीनिंग नहीं बल्कि ऐसे किया जाएगा सुनील नारायण का गेंदबाजी टेस्ट

स्टोक्स के जाने के बाद कप्तान स्टीव स्मिथ (5) रन आउट हो गए। जोस बटलर (16) भी जल्दी आउट हो गए। बटलर के आउट होने पे राजस्थान का स्कोर 26/3 था।

संजू सैमसन (26) और रॉबिन उथप्पा (18) ने एक साथ कुछ समय क्रीज पर बिताया तो लगा की राजस्थान की नैया पार लग सकती है लेकिन राशिद खान ने उथपपा को आउट कर इस 37 रनों की इस साझेदारी को तोडा। राशिद ने ही सैमसन को आउट कर राजस्थान की बची खुची उम्मीदों पर पानी फेर दिया।

आखिरी के पांच ओवरों में राजस्थान को 65 रनों की जरूरत थी और यह मुश्किल था लेकिन तेवतिया और पराग ने टीम की उम्मीदों को जिंदा रख जीत दिला दी।

इससे पहले, पांडे ने इस मैच में हैदरबाद को सम्मानजनक स्कोर दिलाया। जॉनी बेयरस्टो (16) के जल्दी आउट होने के बाद पांडे ने कप्तान डेविड वार्नर के साथ मिलकर टीम को आगे बढ़ाना शुरू किया। लेकिन दोनों धीमी बल्लेबाजी कर रहे थे।

राजस्थान के गेंदबाजों ने इन दोनों को बांधे रखने में सफलता हासिल की। वार्नर और पांडे ने 73 रन जोड़े। वार्नर (48 रन, 38 गेंद, 3 चौके, 2 छक्के) एक और अर्धशतक जमाते उससे दो रन पहले ही जोफ्रा आर्चर की गेंद वार्नर के डंडे ले उड़ी।

पांडे अपना अर्धशतक पूरा करने में सफल रहे। 18वें ओवर में जयदेव उनादकट ने उन्हें आउट कर हैदराबाद की मुश्किलें बढ़ा दीं, लेकिन अंत मे केन विलियम्सन ने 12 गेंदों पर 22 और प्रियम गर्ग ने आठ गेंदों पर एक चौके, एक छक्के के साथ 15 रन बना टीम को 158 के स्कोर तक पहुंचाया।