X close
X close
Indibet

'टेस्ट क्रिकेट मर रहा है, 5 लाख के लिए कोई भी 5 दिन नहीं खेलेगा'

Yuvraj singh says test cricket is dying nobody wants to play test cricket : टेस्ट क्रिकेट के भविष्य को लेकर युवराज सिंह ने एक बड़ा बयान दिया है जिसनें फैंस को हैरान कर दिया है।

By Shubham Yadav May 04, 2022 • 16:22 PM View: 504

अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से रिटायरमेंट लेने के बाद युवराज सिंह को सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव देखा गया है और अक्सर वो कई इंटरव्यूज़ में भी अपनी राय देने से हिचकिचाते नहीं हैं। इसी कड़ी में उन्होंने एक और इंटरव्यू में टेस्ट क्रिकेट को लेकर काफी गंभीर बातें कही हैं जिनको हर क्रिकेट फैन को सुनना चाहिए। 

स्पोर्ट्स18 के होम ऑफ हीरोज, कार्यक्रम में बातचीत के दौरान युवी ने कहा,  'टी20 और टी10 क्रिकेट का भविष्य हैं। टेस्ट क्रिकेट मर रहा है। टी20 क्रिकेट को लोग देखना चाहते हैं। खिलाड़ी टी20 क्रिकेट खेलना चाहते हैं। कोई पांच लाख के लिए पांच दिवसीय क्रिकेट क्यों खेलेगा। आज टी -20 क्रिकेट खेलेकर खिलाड़ी 50 लाख कमा लेते हैं? जिन खिलाड़ियों ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में जगह नहीं बनाई है, उन्हें भी 7-10 करोड़ रुपये मिल रहे हैं।”

Trending


आगे बोलते हुए युवराज ने कहा, “आप एक टी20 मैच देखते हैं और फिर 50 ओवर का मैच देखते हैं। ये अब एक टेस्ट मैच की तरह लगने लगा है। 20 ओवर के बाद, बल्लेबाज़ सोचते हैं कि बल्लेबाजी के लिए अभी 30 ओवर हैं! ऐसे में निश्चित रूप से टी 20 क्रिकेट सबसे आगे निकलता जा रहा है।"

Also Read: आईपीएल 2022 - स्कोरकार्ड

इसके अलावा युवी ने भारतीय टीम के आईसीसी इवेंट्स में फ्लॉप शो के बारे में भी खुलकर बात की। युवराज सिंह का कहना है कि मिडल ऑर्डर में अच्छे बल्लेबाजों की कमी उन महत्वपूर्ण कारणों में से एक है, जिनके चलते भारत ने आईसीसी इवेंट्स में संघर्ष किया है। 2011 वर्ल्ड कप में प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट जीतने वाले युवराज कहते हैं, "जब हमने वर्ल्ड कप (2011) जीता था, तो हम सभी के पास बल्लेबाजी करने के लिए एक निर्धारित नंबर था। मैंने 2019 वर्ल्ड कप में महसूस किया कि भारतीय टीम ने इसकी अच्छी तरह से प्लानिंग नहीं की थी।"

IB

Win Big, Make Your Cricket Prediction Now