X close
X close

17 महीने बाद खुली टीम इंडिया के चयनकर्ता की आंखें, कहा-'अंबाती रायुडू को विश्वकप में न लेना थी एक बड़ी चूक'

By Prabhat Sharma
Nov 21, 2020 • 15:37 PM

भारतीय क्रिकेटर अंबाती रायुडू (Ambati Rayudu) को 2019 विश्वकप में टीम में शामिल नहीं किया गया था। अब इस पूरे मामले पर पूर्व भारतीय बल्लेबाज और मौजूदा चयनकर्ता देवांग गांधी (Devang Gandhi) ने चुप्पी तोड़ी है। देवांग गांधी ने 2019 विश्व कप टीम में अंबाती रायुडू को न सिलेक्ट किए जाने के फैसले को एक बड़ी चूक बताई है और कहा है कि विश्वकप में स्टार बल्लेबाज रायुडू का बहिष्कार अनुचित था।    

टाइम्स ऑफ इंडिया के साथ बातचीत के दौरान देवांग गांधी ने कहा, 'हां, रायुडू को टीम में न लेना एक गलती थी, लेकिन हम भी सिर्फ इंसान हैं। उस समय हमें लग रहा था कि हमने सही समीकरण बनाया था। लेकिन बाद में हमने महसूस किया कि रायुडू की उपस्थिति से टीम को मदद मिल सकती है। वास्तव में, विश्व कप के दौरान भारत के लिए सिर्फ एक बुरा दिन था, और यही कारण है कि रायुडू की अनुपस्थिति के बारे में काफी बातचीत हो रही थी।'

Also Read: IND vs AUS : वनडे सीरीज से पहले मार्कस स्टोइनिस की हुंकार, 'कोहली के खिलाफ ऑस्ट्रेलियाई टीम अतिरिक्त प्रतिस्पर्धी रहेगी'

देवांग गांधी ने आगे कहा, 'उस एक मैच के अलावा, भारत ने विश्वकप में काफी शानदार खेल का प्रदर्शन किया था। मैं रायुडू के गुस्से को समझ सकता हूं और उनका रिएक्शन भी उचित था।' बता दें कि विश्वकप 2019 के दौरान अंबाती रायुडू की जगह टीम में विजय शंकर को शामिल किया गया था। 

विजय शंकर के सिलेक्शन के दौरान सिलेक्टर्स ने कहा था कि उन्हें टीम में 3D प्लेयर की तलाश थी जिसपर अंबाती रायुडू ने चुटकी लेते हुए ट्वीट कर लिखा था कि वह विश्वकप देखने के लिए 3D चश्मा ले आए हैं। अंबाती रायुडू ने आईपीएल 2020 में भी काफी शानदार प्रदर्शन किया था। रायुडू ने 12 मैचों में 359 रन बनाए थे।