Advertisement
Advertisement

थप्पड़ कांड: 14 साल बाद भी नहीं भरा जख्म, हरभजन सिंह ने दुनिया के सामने फिर मानी अपनी गलती

IPL 2008 में हरभजन सिंह और श्रीसंत के बीच थप्पड़ कांड घटित हुआ था, जिसकी वज़ह से आज तक हरभजन दुख में हैं।

Nishant Rawat
By Nishant Rawat June 05, 2022 • 11:29 AM
Cricket Image for थप्पड़ कांड: 14 साल बाद भी नहीं भरा जख्म, हरभजन सिंह ने दुनिया के सामने फिर मानी अ
Cricket Image for थप्पड़ कांड: 14 साल बाद भी नहीं भरा जख्म, हरभजन सिंह ने दुनिया के सामने फिर मानी अ (Harbhajan Singh and Sreesanth reminds slapgate controversy )
Advertisement

क्रिकेट के मैदान पर कई बार ऐसी घटनाएं घट जाती है, जिसका अफसोस टीम और खिलाड़ियों को पूरी जिंदगी ही रहता है। ऐसा ही एक घटना श्रीसंत और हरभजन सिंह से भी जुड़ी हुई है। जी हां, हम आईपीएल 2008 के दौरान घटे थप्पड़ कांड के बारे में बात कर रहे हैं, जिसके लिए एक बार फिर हरभजन सिंह ने दुनिया के सामने अपनी गलती मानी है।

हरभजन सिंह ने 14 साल बाद ग्लांस लाइव फेस्ट के दौरान 'थप्पड़ कांड' पर बातचीत की। उन्होंने कहा, 'आईपीएल के उस मैच में जो हुआ, वो गलत हुआ। मुझसे गलती हुई। मेरी वज़ह से मेरे साथी खिलाड़ियों को शर्मिंदगी झेलनी पड़ी। मैं भी काफी शर्मिंदा हुआ।' 

Trending


हरभजन सिंह आगे बोले, 'अगर मुझे मैदान पर की गई मेरी एक गलती सुधारने का मौका मिलता तो मैं श्रीसंत के साथ किए गए व्यवहार को सुधारना चाहता। मैं जब-जब इसके बारे में सोचता हूं तो मुझे यही लगता है कि मैंने जो भी किया उसकी बिल्कुल भी जरूरत नहीं थी।'

बता दें कि हरभजन सिंह ने आईपीएल के दौरान श्रीसंत के साथ जो भी किया उसके लिए भज्जी को एक या दो नहीं, बल्कि पूरे 11 मुकाबलों के लिए सीज़न से बाहर का रास्ता दिखा दिया गया था। हालांकि इसके बाद महान बल्लेबाज़ सचिन तेंदुलकर ने इन दोनों स्टार खिलाड़ियों की बातचीत करवाते हुए मामले को सुलझाया था।

ये भी पढ़े: 'हार्दिक गेंदबाज़ी कर रहे हैं, लेकिन कब तक करेंगे वो हमें नहीं पता' 

गौरतलब है कि हरभजन सिंह और श्रीसंत दोनों ही काफी अच्छे दोस्त हैं। इन दोनों ही खिलाड़ियों ने साल 2007 टी20 वर्ल्ड और साल 2011 वनडे वर्ल्ड कप में भारतीय टीम को खिताब जितवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement