X close
X close

3 खिलाड़ी जिनको ना खिलाकर रोहित शर्मा से हुई भूल, हार गए वर्ल्डकप

इन 3 खिलाड़ियों का ना खिलाना रोहित शर्मा एंड मैनेजमेंट की ओर से सबसे बड़ी कमी रही। अगर इन 3 खिलाड़ियों को मौका मिलता तो फिर संभावना थी कि भारत शायद वर्ल्डकप जीत जाता।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma November 12, 2022 • 09:55 AM

टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में टीम इंडिया सेमीफाइनल तक गई। इंग्लैंड ने भारत को 10 विकेट से शिकस्त देकर उसे वर्ल्डकप से बाहर किया। टीम इंडिया को मिली इस हार के बाद तमाम तरह की बातें चल रही हैं। इस आर्टिकल के माध्यम से हमने डिकोड करने की कोशिश की है कि अगर इन 3 खिलाड़ियों को टीम इंडिया के स्कवॉड में शामिल किया जाता तो फिर परिणाम कुछ और हो सकते थे।

युजवेंद्र चहल: टी-20 क्रिकेट में लेग स्पिनर काफी ज्यादा कामयाब रहे हैं। युजवेंद्र चहल भारत के सबसे कामयाब टी-20 गेंदबाज हैं बावजूद इसके टी-20 वर्ल्ड कप 2022 में उन्हें एक भी मैच खेलने का मौका नहीं मिला। 69    टी-20 इंटरनेशनल मैच में 85 विकेट लेने वाले चहल को ना खिलाना रोहित शर्मा की सबसे बड़ी भूल साबित हुई।

Trending


पृथ्वी शॉ: घरेलू क्रिकेट में रनों का अंबार लगाने वाले इनफॉर्म बल्लेबाज पृथ्वी शॉ को बतौर ओपनर वर्ल्ड कप की टीम में शामिल किया जा सकता था। पावरप्ले में पृथ्वी शॉ काफी तेजी से रन बनाने के लिए जाने जाते हैं। केएल राहुल और रोहित शर्मा का पावरप्ले में ढीला प्रदर्शन टीम इंडिया को मिली हार की एक और बड़ी वजह बनी। पृथ्वी शॉ का आईपीएल में स्ट्राइक रेट 147.45 का रहा।    

Also Read: क्रिकेट के दिलचस्प किस्से

उमरान मलिक: लगातार 150kph की रफ्तार से गेंदबाजी करने वाले उमरान मलिक अगर ऑस्ट्रेलिया जाते तो फिर उनकी गेंदबाजी मैच के नतीजों में काफी प्रभाव डाल सकती थी। टीम इंडिया के स्कवॉड में कोई भी ऐसा गेंदबाज नहीं था जो तेज रफ्तार से गेंदबाजी कर पाए। उमरान मलिक ऑस्ट्रेलिया में तुरुप का इक्का साबित हो सकते थे।