X close
X close
Indibet

निडर होकर खेलना इस युवा बल्लेबाज की ताकत, कोच ने बताई शुभमन गिल की क्रिकेट गाथा

IANS News
By IANS News
January 19, 2021 • 22:56 PM View: 477

भारत के पूर्व तेज गेंदबाज करसन घावरी ने युवा सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल की तारीफ करते हुए कहा है कि निडर होकर खेलना इस युवा बल्लेबाज की ताकत है।

गिल ने मंगलवार को ब्रिस्बेन के गाबा मैदान पर ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ चौथे और अंतिम टेस्ट में 91 रनों की पारी खेली। उनकी इस पारी के सहारे भारत ने ऑस्ट्रेलिया को तीन विकेट से हराकर 2-1 से टेस्ट सीरीज जीत ली।

Trending


घावरी बचपन से ही गिल की प्रतिभा से अवगत थे। गिल जब छोटे थे तब घावरी ने सुखविंदर सिंह गिल से अपने बेटे को नेट्स पर भेजने का अनुरोध किया था और वादा किया था कि इस बल्लेबाज को सभी तरह की सुविधाएं दी जाएगी।

गिल जब 10-11 साल के थे, तभी उन्होंने अंडर-19 तेज गेंदबाजों का सामना करना शुरू कर दिया था। ये वे तेज गेंदबाज थे, जो अपने अपने राज्यों का प्रतिनिधित्व कर रहे थे।

घावरी ने आईएएनएस से कहा, "गिल ने खिलाड़ियों के साथ घुलना-मिलना शुरू कर दिया, उनके साथ भोजन किया। हम उन्हें हर रोज 30-40 मिनट तक बल्लेबाजी कराते थे। हम तेज गेंदबाजों से नई गेंदों के साथ उन्हें अभ्यास कराते थे। वह यू-19 तेज गेंदबाजों को इतनी अच्छी तरह से खेल रहा था कि मैं हैरान था। मैंने सुशील कपूर (अकादमी के प्रशासनिक प्रबंधक और पीसीए के एक उच्च पदस्थ अधिकारी) को फोन किया और उनसे कहा कि वे लड़के की देखभाल करें और उसे यू-14 में शामिल कर लें। वह सहमत गए। गिल को अंडर-14 में शामिल किया गया और वहां उन्हें खेलाया गया और उन्होंने स्कोर करना शुरू कर दिया।"


Read More

 
LivePools