X close
X close

खून बह रहा था फिर भी क्यों की गेंदबाजी? मिचेल स्टार्क ने दिया दिल छू लेने वाला जवाब

मिचेल स्टार्क (Mitchell Starc) दर्द के बावजूद गेंदबाजी करने के लिए मैदान पर लौटे थे। मिचेल स्टार्क ने इसके पीछे की दिल छूने वाली कहानी बताई है।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma December 29, 2022 • 17:48 PM

Mitchell Starc Bleeding: ऑस्ट्रेलिया और साउथ अफ्रीका के बीच खेले गए तीसरे टेस्ट मैच में मिचेल स्टार्क (Mitchell Starc) दर्द के बावजूद गेंदबाजी करने के लिए मैदान पर लौटे थे। चोटिल होने के बावजूद जब वो घायल बाएं हाथ का उपयोग करके जबरदस्ती गेंदबाजी करने की कोशिश कर रहे थे तब उनकी उंगली से से खून तक बहने लगा था। मिचेल स्टार्क की पतलून खूने से लथपथ भी नजर आई थी।

मैच जीतने के बाद स्टार्क ने कहा,'मैं अपनी टीम को ऐसे हालात में नहीं छोड़ना चाहता था जब 2 खिलाड़ी घायल हों। नहीं पता था दूसरी पारी में क्या होने वाला है। अच्छा लगा अपना काम पूरा करके और गेंद से टीम के लिए बेहतर प्रदर्शन करके। फोकस इतना ही था कि मेरे घायल होने का टीम को ज्यादा इंपैक्ट ना पड़े।'

Trending


मिचेल स्टार्क ने आगे कहा, 'मेरे लिए ये ठीक था कि गेंदबाजी के लिए वापस आने पर इसका ज्यादा खराब असर मुझपर नहीं पड़ेगा। मेरी मेडिकल टीम ने जांच कर ली थी। मैं चाहता था कि मेरी मिडिल फिंगर गेंद को अच्छी तरह से नियंत्रित कर सके। पेनकिलर्स ने अच्छा काम किया। ऐसा पहली बार नहीं है कि मैंने दर्द में गेंदबाजी की हो। इसलिए मैं आगे बढ़ा और मैंने गेंदबाजी करना जारी रखा।'

यह भी पढ़ें: हर्षा भोगले ने चुनी बेस्ट टेस्ट XI, केवल 1 भारतीय खिलाड़ी को दी जगह

बता दें कि पहले दिन लंच के बाद के सत्र के दौरान लांग ऑन पर कैच लेने का प्रयास करते हुए, स्टार्क के बॉलिंग हैंड यानि उनके बाएं हाथ की मिडिल फिंगर पर चोट लग गई थी। वहीं अगर मैच की बात करें तो ऑस्ट्रेलिया ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। साउथ अफ्रीका की टीम पहली पारी में महज 189 रनों पर ऑलआउट हो गई। ऑस्ट्रेलिया के लिए पहली पारी में कैमरून ग्रीन ने 27 रन देकर 5 विकेट झटके थे। ऑस्ट्रेलिया ने डेविड वॉर्नर के 200 रनों की पारी के बदौलत 575 रन बनाकर पारी घोषित की। दूसरी पारी में साउथ अफ्रीका 204 रनों पर ऑलआउट हो गई और इस मुकाबले को इनिंग और 182 रनों से हार गई।