Advertisement
Advertisement

विराट कोहली की दुर्गति के पीछे है रवि शास्त्री का हाथ, पूर्व पाकिस्तानी कप्तान का बड़ा आरोप

अनिल कुंबले की जगह 2017 में रवि शास्त्री को भारतीय टीम का हेड कोच नियुक्त किया गया था। विराट कोहली लंबे समय से आउट ऑफ फॉर्म हैं और फिलहाल उन्होंने क्रिकेट के हर फॉर्मेट से कप्तानी छोड़ दी है।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma June 22, 2022 • 19:26 PM
Cricket Image for Rashid Latif Blames Ravi Shastri For Virat Kohli Form
Cricket Image for Rashid Latif Blames Ravi Shastri For Virat Kohli Form (Ravi Shastri and Virat Kohli (Image Source: Google))
Advertisement

रवि शास्त्री कि गिनती अब तक के सबसे सफल भारतयी कोचों के रूप में अगर की जाए तो इसमें कोई गलत बात नहीं होगी। लेकिन, पाकिस्तान के एक पूर्व कप्तान राशिद लतीफ के अनुसार रवि शास्त्री को टीम इंडिया को कोच बनाना बैकफायर कर गया। अनिल कुंबले की जगह 2017 में शास्त्री को भारतीय टीम का हेड कोच नियुक्त किया गया था। राशिद लतीफ से जब उनसे यूट्यूब चैनल 'कॉट बिहाइंड' पर विराट कोहली को ब्रेक देने की शास्त्री की सलाह पर रिएक्शन देने के लिए कहा गया तब उनका ये बयान आया। 

राशिद लतीफ ने कहा, 'मुझे लगता है विराट कोहली की खराब फॉर्म के पीछे रवि शास्त्री का ही हाथ है। आपने कुंबले जैसे खिलाड़ी को दरकिनार किया और रवि शास्त्री को कोच बनाया। रवि शास्त्री के कारण ही ऐसा हुआ अगर रवि शास्त्री इस टीम के कोच ना होते तो विराट कोहली कभी भी ऐसे बाहर नहीं बैठते।'

Trending


यह भी पढ़ें: दिनेश कार्तिक ने T20 रैंकिंग में लगाई लंबी छलांग, इस नंबर पर पहुंचे DK

राशिद लतीफ ने आगे कहा, 'एक समय अनिल कुंबले को कोचिंग से हटा दिया गया और रवि शास्त्री को कोच बनाया गया। रवि शास्त्री उस समय किसी ब्रॉडकास्टिंग कंपनी के साथ काम कर रहे थे उन्हें कोचिंग के बारे में कुछ आइडिया नहीं था। मुझे लगा था कि ये बैकफायर करेगा और ऐसा हुआ भी।'

यह भी पढ़ें: सरफराज अहमद ने ऐसा क्यों कहा था-'मैं नहीं चाहता कि मेरा बेटा क्रिकेटर बने'

बता दें कि रवि शास्त्री के नेतृत्व में भारत ने ऑस्ट्रेलिया में दो टेस्ट सीरीज़ जीती और इंग्लैंड को उनकी धरती पर 2-1 से पछाड़ा। इसके अलावा टीम 2017 चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल, विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल और 2019 विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंची थी।

Advertisement

Cricket Scorecard

Advertisement