X close
X close

'आप IPL खेलते हैं, तब वर्कलोड नहीं होता? इंडिया के लिए ही क्यों होता है?'

टी-20 वर्ल्ड कप 2022 के सेमीफाइनल मुकाबले में इंग्लैंड ने टीम इंडिया को 10 विकेट से हरा दिया। इस हार के बाद से ये बातें उठ रही हैं कि टीम इंडिया के खिलाड़ियों पर काफी ज्यादा वर्कलोड है।

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma November 12, 2022 • 11:07 AM

टीम इंडिया इंग्लैंड के हाथों 10 विकेट से मिली करारी शिकस्त के बाद टी20 वर्ल्ड कप से बाहर हो गई। रोहित शर्मा की टीम के इस प्रदर्शन के बाद हार का कारण खोजने का दौर चल पड़ा है। टीम इंडिया के खिलाड़ियों पर वर्कलोड काफी ज्यादा होता है ऐसे कहने वालों को दिग्गज सुनील गावस्कर (Sunil Gavaskar) की बात जरूर सुननी चाहिए। सुनील गावस्कर ने कहा है कि भारतीय क्रिकेट को वर्कलोड मैनेजमेंट से आगे बढ़ने की जरूरत है।

सुनील गावस्कर ने जोर देकर कहा है कि खिलाड़ी इस तरह की अवधारणा को तब भूल जाते हैं जब वो IPL के पूरे सीजन में खेलते हैं। आजतक के शो पर बोलते हुए गावस्कर ने कहा, 'बदलाव होंगे। जब आप वर्ल्ड कप में जीत नहीं सकते तो चेंज होगा। हमने देखा है की जो न्यूजीलैंड के लिए टीम जा रही है, उसमें बदलाव हुए हैं।' 

Trending


सुनील गावस्कर ने आगे कहा, 'ये जो 'वर्कलोड-वर्कलोड' की बातें चलती हैं। कीर्ति और मदन ने सही कहा की वर्कलोड सिर्फ भारत के लिए खेलने के लिए क्यों होता है? आप आईपीएल खेलते हैं, पूरा सीजन खेलते हैं, वहां आप ट्रैवलिंग करते हैं... सिर्फ पिछला आईपीएल 4 सेंटर्स में हुआ था। बाकी सब जगह आप इधर-उधर दौड़ते रहते हैं। वहां पर आपको थकान नहीं होती? वहां काम का बोझ नहीं होता? सिर्फ जब भारत के लिए खेलना होता है, वो भी तब जब आप नॉन-ग्लैमरस कंट्रीज में जाते हैं, तब आपका वर्कलोड बनता है? ये बात गलत है।'

सुनील गावस्कर ने कहा, 'वर्कलोड और फिटनेस साथ में नहीं हो सकते। आगर आप फिट है, तो काम के बोझ का सवाल कहां आया? हम मराठी में कहते हैं कि थोड़ा लाड करते हैं, वो थोड़ा कम करें। हम आपको टीम में ले रहे हैं, हम आपको काफ़ी रिटेनर फीस भी दे रहे हैं। अगर वर्कलोड की वजह से आप खेल नहीं रहे, फिर रिटेनर फीस भी ना लें।'

यह भी पढ़ें: 3 खिलाड़ी जिनको ना खिलाकर रोहित शर्मा से हुई भूल, हार गए वर्ल्डकप

सुनील गावस्कर ने कहा, 'आप मैच नहीं खेलेंगे तो आपकी रिटेनर फीस भी निकाल दी जानी चाहिए। बहुत सारे लोग फिर वर्कलोड भूलकर खेलेंगे। आईपीएल शुरू होने से पहले इंटरनेशनल क्रिकेट की बॉडी है उन्होंने ये कहा था। वर्कलोड, वर्कलोड, वर्कलोड... जब आईपीएल आया सारे प्लेयर्स आईपीएल खेलने के लिए वर्कलोड भूल गए। बदलाव होंगे और होना भी चाहिए। क्या बदलाव होंगे से सिलेक्शन कमिटी तय करेगी लेकिन आपको प्लेयर्स को संदेश भेजना है।'