X close
X close
Indibet

आईपीएल फाइनल 2016 - बैंगलोर को हराकर जब हैदराबाद ने जीता था अपना पहला ख़िताब

RK Agarwal
By RK Agarwal
April 06, 2021 • 10:13 AM View: 2243

एक शानदार टूनामेंट के बेहतरीन फाइनल में सनराइज़र्स हैदराबाद ने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर को 8 रनों से हरा दिया और आईपीएल 2016 के चैंपियन बन गए। जब हैदराबाद ने 209 का लक्ष्य बैंगलोर के समक्ष रखा तब उन्हें विश्वास था की वे बैंगलोर को गेल की सनसनीखेज पारी के बावजूद रोक लेंगे और वही उन्होंने कर दिखाया जब रॉयल चैलेंजर्स 20 ओवर के बाद 7 विकेट खो कर 200 रन ही बना सकी।

सनराइज़र्स हैदराबाद ने टॉस जीतकर पहले बैटिंग का निर्णय लिया, और बेन कटिंग एवं कप्तान वार्नर की साहसिक पारियों की बदौलत अपनी टीम को टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ स्कोर तक पहुंचा दिया। वार्नर ने पारी के प्रथम हाफ में गेंदबाज़ों की जमकर धुनाई की। हालांकि वार्नर को शुरू के ओवरों में ज्यादा खेलने का मौका नहीं मिला परन्तु तीसरे ओवर में मौका मिलते ही अरविन्द की गेंदों पर दो चौके जड़ दिए। पांचवें ओवर में अपने ही देश के शेन वाटसन पर चौका और छक्का मार दिया। उस ओवर में कुल 19 रन बने। छठे ओवर में 13 रन बनाकर पावर प्ले का अंत 59 बनाकर किया।

Trending


उसके पश्चात् शिखर धवन (28 रन 25 गेंद) अगले ही ओवर में वार्नर का साथ छोड़ गए, लेकिन वार्नर ने गेंदबाज़ों की धुनाई अपने अंदाज़ में जारी रखी, पारी के 9 वें ओवर में चहल पर दो चौके मारकर वार्नर ने अपना अर्धशतक पूरा किया। पारी के 14 वें ओवर में वार्नर, अरविन्द की गेंद जो काफी बहार थी, को थर्ड मैन पर खड़े अब्दुल्ला के हाथों में थमा कर आउट हो गए। उन्हों ने बहुत शानदार (38 गेंद पर 69 रन) बल्लेबाज़ी की जिसमें आठ चौके और तीन छक्के शामिल थे।

युवराज सिंह ने अपनी ख्याति के अनुरूप २३ गेंद में ३८ रन बनाये जिसमें चार चौके और दो छक्के शामिल थे। किन्तु युवराज सिंह भी 17 वें ओवर में आउट होकर पवैलियन वापस लौट गए। बेन कटिंग ने अंत में आकर ताबड़तोड 15 गेंद में 39 बनाकर पारी को फलने फूलने में मदद की। पारी के दौरान कटिंग ने तीन चौके और चार छक्के मारे। कटिंग ने वाटसन के अंतिम ओवर में 24 रन बटोरे और अपनी टीम का स्कोर सात विकेट के नुकसान पर 208 रन तक पहुंचा दिया जो की अभी तक के IPL फाइनल का सर्वाधिक स्कोर था।

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के लिए क्रिस जॉर्डन, जो की अपनी लय में नहीं थे, फिर भी अपनी टीम के सबसे सफल गेंदबाज़ बने। जॉर्डन ने अपने चार ओवर में 45 रन देकर तीन विकेट लिए जब कि बाएं हाथ के तेज़ गेंदबाज़ अरविन्द ने चार ओवर में 30 रन देकर दो विकेट प्राप्त किये,यजुवेंद्र चहल ने एक विकेट लिया। वॉटसन ने भूल जाने वाली गेंदबाज़ी कि और अपने चार ओवरों में 61 रन खर्च कर दिए।


Read More

Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo