X close
X close

ये 'DEXA' टेस्ट क्या बला है? टीम इंडिया में सेलेक्शन के लिए करना होगा पास

बीसीसीआई ने हेड कोच राहुल द्रविड़ और कप्तान रोहित शर्मा के साथ रिव्यू मीटिंग की जिसके बाद कई ऐसे फैसले लिए जो गेम चेंजर साबित हो सकते हैं।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav January 02, 2023 • 11:23 AM

रविवार (1 जनवरी) को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने 2022 में टीम के प्रदर्शन पर चर्चा करने के लिए कप्तान रोहित शर्मा, मुख्य कोच राहुल द्रविड़ और मुख्य चयनकर्ता चेतन शर्मा के साथ एक समीक्षा बैठक (Review Meeting) की। इस मीटिंग में बीसीसीआई अध्यक्ष रोजर बिन्नी, सचिव जय शाह, और राष्ट्रीय क्रिकेट अकादमी (एनसीए) के प्रमुख वीवीएस लक्ष्मण भी बैठक का हिस्सा थे।

इस मीटिंग के अंत के बाद बीसीसीआई द्वारा कई नई चीज़ों को लेकर घोषणा की गई, जिसमें चयन मानदंड और वर्कलोड प्रबंधन के आसपास के मुद्दों पर सुधार शामिल है। इसी कड़ी में 'यो-यो' टेस्ट ने भारतीय टीम में वापसी की है, वहीं, भारतीय टीम में चयन के लिए अब 'DEXA' टेस्ट की भी घोषणा की गई है। बीसीसीआई के इस टेस्ट का ऐलान करते ही फैंस के मन में इस टेस्ट से जुड़े कई सवाल थे तो हमने सोचा आपको DEXA टेस्ट से जुड़ी सारी जानकारी यहीं पर दें।

Trending


ये DEXA क्या है?

DEXA (Dual-energy X-ray absorptiometry) एक इमेजिंग टेस्ट है जिसमें हड्डियों की मजबूती, बॉडी में फैट की मात्रा और उनकी चोट का परीक्षण किया जाता है। ये टेस्ट हड्डी की ताकत को मापने के लिए ज्यादा इस्तेमाल किया जाता है और हड्डी में संभावित फ्रैक्चर की जानकारी भी प्रदान कर सकता है। इस टेस्ट में एक खास तरह का एक्स रे किया जाता और सिर्फ 10 मिनट में ये पता लगाया जा सकता है कि एक खिलाड़ी कितना फिट है। स्पोर्ट्स खेलने वाले को अक्सर हड्डियों में फ्रैक्चर की शिकायत रहती है। ऐसे में ये टेस्ट खिलाड़ियों को फिट रखने में काफी मददगार साबित होता है। इस स्कैन में दो प्रकार की बीम होती हैं - उच्च ऊर्जा और निम्न ऊर्जा। दोनों किरणें हड्डी से होकर गुजरती हैं और नतीजा बताती हैं।

Also Read: SA20, 2023 - Squads & Schedule

वहीं, इस डेक्सा के अलावा यो-यो टेस्ट की भी वापसी हुई है। कोविड-19 के चलते बीसीसीआई द्वारा पहले तो इस टेस्ट को हटा दिया गया था लेकिन अब एक बार फिर से इस टेस्ट की वापसी हो गई है। ऐसे में ये देखना दिलचस्प होगा कि भारतीय टीम के लिए आने वाले दिनों में कौन से खिलाड़ियों के लिए ये टेस्ट मुसीबत बनकर उभरते हैं।