X close
X close
Indibet

जब रवि शास्त्री का खौला खून, जावेद मियांदाद को जूता लेकर दौड़ाया

Prabhat  Sharma
By Prabhat Sharma
September 14, 2021 • 19:29 PM View: 1994

टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री अपनी किताब ‘स्टारगेजिंग’ को लेकर सुर्खियों में बने हुए हैं। रवि शास्त्री ने अपने इस किताब में कई दिलचस्प किस्से शेयर किए हैं। इन्हीं किस्सों में से एक मजेदार किस्सा पाकिस्तान के पूर्व खिलाड़ी जावेद मियांदाद से जुड़ा हुआ है। यह बात बहुत कम लोग जानते हैं कि रवि शास्त्री ने जावेद मियांदाद को जूता लेकर दौड़ा लिया था।

1987 में जब पाकिस्तान की टीम भारत दौरे पर थी तब यह घटना घटी थी। 20 मार्च को दोनों टीमों के बीच तीसरा वनडे मुकाबला हैदराबाद के मैदान में खेला जा रहा था। पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया ने रवि शास्त्री के 69 और कपिल देव के 59 की बदौलत 44 ओवर में 212 रन बनाए थे।

Trending


यह मुकाबला भी रोमांच से भरा हुआ निकला और पाकिस्तान की टीम को अतिंम गेंद पर जीत के लिए दो रन चाहिए थे। हालांकि, पाकिस्तान की टीम ऐसा करने में कामयाब ना हो सकी और अब्दुल कादिर दूसरा रन लेने के चक्कर में रनआउट हो गए। स्कोर बराबर रहा लेकिन भारत ने छह और पाकिस्तान ने सात विकेट खोए थे। एक विकेट कम गिरने के चलते टीम इंडिया को विजेता घोषित किया गया।

हार से बौखलाए जावेद मियांदाद चीखते हुए भारतीय ड्रेसिंग रूम में आए और बोले, 'तुम चीटिंग से जीते हो।' ये सुनते ही रवि शास्त्री का खून खौल गया और वो जूता उठाकर मियांदाद के पीछे-पीछे पाकिस्तानी ड्रेसिंग रूम तक उन्हें मारने पहुंचे। पाकिस्तानी कप्तान इमरान खान ने बीच-बचाव कर मामले को शांत करवाया।

Also Read: T20 World Cup 2021 Schedule and Squads

हालांकि, दोनों खिलाड़ियों ने इस मामले को ज्यादा नहीं बढ़ाया और इसे भूलाने में ही बेहतरी समझी। अगले मैच के लिए जब दोनों टीमें पुणे जा रही थी, तो दोनों खिलाड़ियों ने सभी गिला शिकवा दूर करते हुए एक साथ फ्लाइट में समय बिताया था। शास्त्री की किताब के जरिए यह बात सामने निकलकर आई है।


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo