X close
X close

VIDEO: 'शार्दुल ने मेरी सुनी, उसके लिए उसका थैंक यूू', रवि शास्त्री के सवाल पर पांड्या ने दिया दिल जीतने वाला जवाब

न्यूज़ीलैंड के खिलाफ अर्द्धशतक लगाने वाले हार्दिक पांड्या से रवि शास्त्री ने पहली पारी के बाद एक सवाल पूछा, जिसका हार्दिक ने शानदार जवाब दिया।

Shubham Yadav
By Shubham Yadav January 25, 2023 • 12:11 PM

भारत ने इंदौर में सीरीज के तीसरे वनडे में न्यूजीलैंड को 90 रनों से हराकर तीन मैचों की सीरीज में 3-0 से क्लीन स्वीप कर लिया। इस जीत के साथ ही भारतीय टीम आईसीसी वनडे रैंकिंग में भी नंबर वन बन गई है। इस मैच में पहले बल्लेबाज़ी करते हुए भारतीय टीम ने पचास ओवरों में 385/9 का विशाल स्कोर बनाया और कीवी टीम को 295 रन पर आउट करके भारत ने 90 रन से ये मैच जीत लिया। शार्दुल ने बल्ले से 17 गेंदों में तीन चौकों और एक छक्के की मदद से 25 रन बनाए और इसके बाद बॉलिंग में भी तीन विकेट लिए। शार्दुल को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार दिया गया।

इस दौरान हार्दिक ने शानदार अर्द्धशतक लगाया और शार्दुल के साथ एक अच्छी साझेदारी की जिसकी बदौलत भारत 385 के स्कोर तक पहुंचने में सफल रहा। भारत की जीत के बाद, भारत के पूर्व मुख्य कोच रवि शास्त्री ने हार्दिक पांड्या से मैच के बारे में बात की और शार्दुल के साथ साझेदारी पर एक सवाल पूछा। शास्त्री ने पांड्या से पूछा कि साझेदारी के दौरान कौन किसको सलाह दे रहा था, इस पर पांड्या ने एक मज़ेदार जवाब दिया।

Trending


पांड्या ने हंसते हुए कहा कि बैटिंग के दौरान शार्दुल ने उन्हें सुना इसके लिए वो शार्दुल के आभारी हैं। पांड्या ने कहा, “सौभाग्य से, मुझे खुशी है कि शार्दुल को मुझ पर विश्वास है और मैं जो करना चाहता हूं मुझे करने देता है। लेकिन वो हमेशा अपनी बात रखता है और मैं हमेशा सुनने की कोशिश करता हूं, लेकिन दिन के अंत में, मुझ पर उसके विश्वास के कारण, वो वही करता है जो मैं चाहता हूं। इसलिए, हमारी साझेदारी में, ये संयुक्त था लेकिन मुझे सुनने के लिए मैं शार्दुल का आभारी हूं।"

Also Read: क्रिकेट के अनसुने किस्से

आपको बता दें कि हार्दिक पांड्या चोट के कारण खेल से काफी दूर रहने के बाद पिछले साल इंडियन प्रीमियर लीग में क्रिकेट में अपनी वापसी के बाद से काफी आगे बढ़ गए हैं। पांड्या ने कप्तान के रूप में अपने पहले ही सीज़न में गुजरात टाइटन्स को आईपीएल खिताब दिलाया था।