X close
X close
Indibet

ICC ने खड़े किए हाथ, कहा- 'कश्मीर प्रीमियर लीग को रोकना हमारे हाथ में नहीं'

Shubham Sharma
By Shubham Sharma
August 02, 2021 • 17:39 PM View: 2236

कश्मीर प्रीमियर लीग (केपीएल) ने पिछले कुछ दिनों से क्रिकेट जगत में काफी शोर मचा रखा है। दक्षिण अफ्रीका के पूर्व क्रिकेटर हर्शल गिब्स ने ट्विटर पर भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) पर उन्हें KPL में भाग नहीं लेने की धमकी देने का आरोप लगाया था। इसके बाद पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) ने भी एक आधिकारिक बयान जारी किया था और अपनी निराशा भी व्यक्त की थी।

भारतीय बोर्ड लीग पर अपना रुख पहले ही स्पष्ट कर चुका है। बीसीसीआई ने खिलाड़ियों और क्रिकेट बोर्ड को टी20 टूर्नामेंट में हिस्सा लेने से आगाह किया है। बीसीसीआई ने यह भी कहा है कि लीग में शामिल होने वाले किसी भी पूर्व खिलाड़ी को भारत में क्रिकेट गतिविधियों से प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। इसके साथ बी बीसीसीआई ने आईसीसी से भी इस लीग को मान्यता ना देने का आग्रह किया था।

Trending


अब बीसीसीआई की अपील पर आईसीसी ने अपना जवाब दिया है। आईसीसी के प्रवक्ता ने जियो टीवी से बात करते हुए कहा, "टूर्नामेंट आईसीसी के अधिकार क्षेत्र में नहीं है क्योंकि यह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट टूर्नामेंट नहीं है। साथ ही, क्रिकेट संस्था केवल तभी हस्तक्षेप कर सकती है जब मैच सहयोगी सदस्य के क्षेत्र में हों। ऐसे मामलों में राष्ट्रीय बोर्डों को टूर्नामेंटों को मंजूरी देने का अधिकार है।"

आपको बता दें कि केपीएल का उद्घाटन संस्करण 6 अगस्त से शुरू होने वाला है, जिसमें शोएब मलिक, शाहिद अफरीदी जैसे पाकिस्तानी क्रिकेटर हिस्सा लेंगे। बीसीसीआई ने पहले भी टूर्नामेंट पर आपत्ति जताई थी क्योंकि यह मुजफ्फराबाद में खेला जाएगा जो कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में विवादित भूमि का हिस्सा है। केपीएल को पीसीबी की मंजूरी मिल चुकी है और इस टूर्नामेंट का शेड्यूल तय समय के अनुसार ही आगे बढ़ने की उम्मीद है। 


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now

Koo