X close
X close
Indibet

IND vs AUS: भारतीय गेंदबाजी के सामने होगी ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाजी की परिक्षा, स्मिथ नंबर-3 पर खेलने को तैयार

IANS News
By IANS News
December 10, 2020 • 14:48 PM View: 330

आस्ट्रेलिया के बल्लेबाज स्टीव स्मिथ ने कहा है कि डेविड वार्नर की गैरमौजूदगी में भारत के खिलाफ पहले टेस्ट मैच में उनकी टीम की बल्लेबाजी की गहराई की परीक्षा होगी। भारत और आस्ट्रेलिया के बीच चार मैचों की टेस्ट सीरीज का पहला मैच 17 दिसंबर से एडिलेड ओवल मैदान पर शुरू होगा।

स्मिथ ने कहा कि अगर वार्नर की जगह नंबर-3 पर बल्लेबाज करने वाले मार्नस लाबुशैन को पारी की शुरुआत करने भेजा जाता है तो वह नंबर-3 पर खेलने को तैयार हैं।

Trending


वार्नर के जाने के बाद से आस्ट्रेलिया ओपनिंग बल्लेबाज के लिए जद्दोजहद कर रही है। विल पुकोवस्की का कनकशन के कारण खेलना संदिग्ध हैं। उन्हें पहले अभ्यास मैच में कार्तिक त्यागी की गेंद सिर में लग गई थी। इसलिए वह दूसरे अभ्यास मैच में भी नहीं खेलेंगे।

स्मिथ ने गुरुवार को मीडिया से बात करते हुए कहा, "वार्नर के न रहने से हमारी बल्लेबाजी की गहराई की परीक्षा होगी और कुछ नए खिलाड़ी सामने आएंगे। इसलिए यह अच्छी भारतीय टीम के सामने हमारी परीक्षा होगी।"

स्मिथ ने कहा कि अगर पुकोवस्की नंबर-3 पर नहीं खेलते हैं और टीम उनके रिप्लेसमेंट के तौर पर उस्मान ख्वाजा और शॉन मार्श को नहीं लाती है और लाबुशैन को ओपनिंग के लिए भेजती है तो वह नंबर-3 पर खेलने को तैयार हैं।

स्मिथ ने कहा, "इससे मैं ज्यादा परेशान नहीं हूं। मैंने नंबर तीन पर बल्लेबाजी की है। तीन हो या चार.. मैं किसी भी नंबर पर खेलूं मुझे कोई परेशानी नहीं हैं। जब आप नंबर-3 पर खेलते हो तो कई बार आप पहली ही गेंद पर बल्लेबाजी करने आ जाते हो, या पहले ओवर में। नंबर-3 पर खेलने वाला खिलाड़ी टॉप ऑर्डर में जा सकता है।"

उन्होंने कहा, "मैं अपने ऊपर ज्यादा दबाव नहीं बनाऊंगा। मैं वहां जाकर अपना काम करूंगा और यह है ज्यादा से ज्यादा रन करना। मुझे लगता है कि हमें देखना होगा कि दूसरे अभ्यास मैच में क्या होता है और चयनकर्ता क्या करना चाहते हैं। पहला टेस्ट मैच शुरू होने में अभी समय है।"

दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने कहा कि वह लय में हैं और टी-20 सीरीज में रनों की कमी से वह चिंतित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि उनकी ग्रीप सही है।

उन्होंने कहा, "सीमित ओवरों की क्रिकेट में मैं अपनी ग्रीप को थोड़ा खुला रखता हूं ताकि मैं गेंद को अच्छे से मार सकूं, खासकर जब मैं बड़े शॉट्स खेलता हूं। वहीं टेस्ट क्रिकेट में मैं थोड़ी क्लोज ग्रीप से खेलता हूं क्योंकि आप ज्यादा शॉट्स नहीं खेलते हो। इससे मुझे गेंद को देरी से खेलने में मदद मिलती है। इस समय मेरी ग्रीप अच्छी है।"


 
Article