बिलि स्टानलेक ने पस्त कर दिया रोहित शर्मा की रणनीति, आखिरी ओवर का रोमांच
X close
X close
टॉप 10 क्रिकेट की ख़बरे

बिलि स्टानलेक ने हरा दिया मुंबई इंडियंस को , एक विकेट से रोमांचक जीत मिली सनराइजर्स हैदराबाद की टीम को

by Vishal Bhagat Apr 13, 2018 • 00:21 AM

हैदराबाद, 13 अप्रैल | शिखर धवन (45) के बाद दीपक हुड्डा की नाबाद 32 रनों की जुझारू पारी के दम पर सनराइजर्स हैदराबाद ने इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में गुरुवार को अपनी लगातार दूसरी जीत दर्ज की।  अपने घर राजीव गांधी अंतर्राष्ट्रीय स्टेडियम में हैदराबाद ने मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस को रोचक मुकाबले में एक विकेट से मात दी। स्कोरकार्ड

टॉस जीतकर हैदराबाद के कप्तान केन विलियमसन ने पहले गेंदबाजी चुनी और मेजबान टीम के गेंदबाजों ने कप्तान के फैसले को सही ठहराते हुए निर्धारित 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 147 रनों पर सीमित कर दिया। हैदराबाद ने इस लक्ष्य को आखिरी गेंद पर नौ विकेट खोकर हासिल कर लिया। 

हैदराबाद को 12 गेंदों में 12 रनों की दरकार थी। 19वां ओवर फेंकने आए मुस्ताफीजुर रहमान ने इस ओवर में सिर्फ एक रन दिया और दो विकेट लेकर मुंबई को मैच में वापस ला दिया। आखिरी ओवर में मुंबई को एक विकेट और हैदराबाद को 11 रनों की दरकार थी। हुड्डा और बिलि स्टानलेक (नाबाद 2) ने जरूरी रन बनाते हुए मेजबान टीम को दूसरी जीत दिलाई

आसाना से लक्ष्य का पीछा करने उतरी हैदराबाद को अच्छी शुरुआत मिली। रिद्धिमान साहा (22) और धवने पहले विकेट के लिए 6.5 ओरों में 62 रन जोड़े, लेकिन युवा लेग स्पिनर मयंक मार्केंडे ने चार विकेट लेकर मेजबान टीम की कमर तोड़ दी। साहा मयंक की फिरकी का शिकार हो कर पवेलियन लौटे। कप्तान विलियमसन सिर्फ छह रनों का योगदान दे पाए। विलियमसन 73 के कुल स्कोर पर आउट हुए। धवन को मयंक ने अर्धशतक भी पूरा नहीं करने दिया। 28 गेंदों में तीन चौके मारने वाले धवन का कैच जसप्रीत बुमराह ने 77 के कुल स्कोर पर पकड़ा। मयंक ने मनीष पांडे को भी 11 के निजी स्कोर पर अपना शिकार बनाया।  एक समय मजबूत स्थिति में दिख रही मेजबान टीम लगातार विकेटों के गिरने से संकट में आ गई थी। 

आईपीएल के 8 कप्तानों की हॉट वाइफ्स और गर्लफ्रेंड,देखें PICS  

लेकिन दीपक ने युसूफ पठान (14) के साथ मिलकर टीम को जीत के करीब ले गए, लेकिन बुमराह ने लगातार दो विकेट लेकर मेजबान टीम को परेशानी में डाल दिया। उन्होंने 18वें ओवर की चौथी गेंद पर पठान और अगली गेंद पर राशिद खान को आउट किया। अगले ओवर में रहमान ने मेजबान टीम की माथे की लकीरों को और गहरा कर दिया। 

लेकिन एक छोर पर खड़े दीपक ने टीम को आखिरकार जीत दिला ही दी। उन्होंने अपनी पारी में 23 गेंदों का सामना किया और एक चौका एक छक्का लगाया। यह छक्का उन्होंने आखिरी ओवर की पहली गेंद पर मारा था। 

इससे पहले, इविन लुइस (29), सूर्यकुमार यादव (28) और केरन पोलार्ड(28) की बदौलत मुंबई सम्मानजनक स्कोर खड़ा कर सकी।  मुंबई की शुरुआत ठीक नहीं रही और उसके कप्तान रोहित शर्मा 10 गेंदों पर एक चौके और एक छक्के की मदद से 11 रन बनाकर आउट हो गए।  इसके बाद नियमित अंतराल पर अपना विकेट गंवाने के कारण मुंबई की टीम संकट में थी। लुइस ने 17 गेंदों पर तीन चौके और दो छक्के की बदौलत सर्वाधिक 29 रन बनाए। 

सूर्यकुमार ने 31 गेंदों पर दो चौकों और एक छक्के के सहारे 28 रन की पारी खेली। इसके अलावा पोलार्ड ने भी 23 गेंदों पर दो चौकों और दो छक्कों की बदौलत 28 रन बनाए। क्रूणाल पांड्या ने 10 गेंदों पर दो चौकों के दम पर 15 रन बनाए।

हैदराबाद की तरफ से संदीप शर्मा ने 25 रन पर दो विकेट, सिद्र्था कौल ने 29 रन देकर दो विकेट और स्टानलेक ने 42 रन पर दो विकेट लिए। राशिद खान और शाकिब अल हसन को एक-एक विकेट मिला।