X close
X close
Indibet

Cricket Tales : जब एक विकेट लेने के लिए मिल गए गेंदबाज़ को 1000 डॉलर

एक विकेट के लिए 1000 डॉलर कोई मामूली रकम नहीं होती- भले ही वह तेंदुलकर का विकेट ही क्यों न हो? तेंदुलकर के विकेट ने आसिम सईद की जेब तो 1000 डॉलर से भारी कर दी पर सचिन का विकेट

Charanpal Singh Sobti
By Charanpal Singh Sobti September 16, 2022 • 12:10 PM

Cricket Tales - क्या आसिम सईद नाम का कोई इंटरनेशनल क्रिकेटर खेला है? एक दम इस सवाल का जवाब देना मुश्किल होगा क्योंकि मैचों की भीड़ में, 2004 में सिर्फ 2 वनडे खेले क्रिकेटर को कौन याद रखेगा? फिर भी आसिम का नाम ख़ास है क्योंकि उनके नाम पर एक बड़ा अनोखा रिकॉर्ड है जो एशिया कप में बना। करियर बड़ा छोटा सा- 2 वन डे इंटरनेशनल, 1 फर्स्ट क्लास मैच और 13 लिस्ट ए मैच और इन सब मैचों में सिर्फ 4 विकेट। इनमें से 2 वन दे इंटरनेशनल में सिर्फ 1 विकेट जो उन्हें बड़े साधारण दर्जे का गेंदबाज (लेफ्ट आर्म मीडियम) साबित करता हैं पर यही एक विकेट उन्हें एक बड़े अलग किस्म के रिकॉर्ड पर ले गया।

क्या है ये रिकॉर्ड? इसके लिए 2004 के एशिया कप में चलना होगा। ग्रुप बी में भारत की टीम मेजबान श्रीलंका और यूएई के साथ थी। हर ग्रुप से दो टीम ने सुपर 4 के लिए क्वालीफाई किया और इस ग्रुप से ये मौका भारत और श्रीलंका को मिला। ग्रुप में भारत का पहला मैच दांबुला में। भारत ने 260-6 का स्कोर बनाया और यूएई को 144 रन पर आउट कर दिया। राहुल द्रविड़ ने 93 गेंद में 104 रन बनाए- खास बात ये थी कि इनमें से, द्रविड़ ने 72 रन भाग कर बनाए, दूसरे पार्टनर के रन के लिए भी भागे और उसके बाद विकेटकीपिंग की।

Trending


इस तरह स्कोर कार्ड, इस मैच को बड़ा साधारण सा मैच साबित करता है। आप ने बहुत से ऐसे किस्से सुने होंगे कि मैच के बाद, किसी गेंदबाज को उसके ख़ास प्रदर्शन के लिए, नकद इनाम दिया गया पर इस मैच से तो पहले ही एक इनाम की घोषणा हो गई थी। टूर्नामेंट से पहले, यूएई के एक अधिकारी ने घोषणा की थी कि उनकी टीम का जो भी गेंदबाज सचिन तेंदुलकर को आउट करेगा, उसे वे 1000 अमरीकी डालर का नकद इनाम देंगे। चूंकि यूएई के पास टूर्नामेंट में भारत के विरुद्ध खेलने का एक ही वास्तविक मौका था, इसलिए इस ख़ास विकेट के लिए, एक ही दावेदार हो सकता था ।

भले ही, 1990 फीफा वर्ल्ड कप में गोल करने के लिए खलील इस्माइल मुबारक और अली थानी जुम्मा को जो इनाम (यूएई के प्रधानमंत्री शेख जायद बिन सुल्तान अल नाहयान ने उन्हें एक-एक रॉल्स रॉयस तोहफे में दी थी) मिला था- उसके मुकाबले में, ये इनाम कुछ भी नहीं था। तब भी, एक विकेट के लिए 1000 डॉलर कोई मामूली रकम नहीं होती- भले ही वह तेंदुलकर का विकेट ही क्यों न हो?

तेंदुलकर ने 8 वें ओवर (सईद का चौथा) की पांचवीं गेंद को फ्लिक करने की कोशिश की, लेकिन गेंद ने बैट का अंदरूनी किनारा लिया और शॉर्ट मिड-विकेट पर फहद उस्मान के पास गई। तेंदुलकर 25 गेंदों में 18 रन बनाकर आउट हुए और इस इनामी विकेट पर सईद को टीम के सभी खिलाड़ियों ने घेर लिया। डेब्यू वनडे इंटरनेशनल में तेंदुलकर के विकेट के साथ शुरुआत- इससे ज्यादा वे और क्या चाह सकते थे?

संयोग देखिए- यूएई के पिछले कप्तान सुल्तान जरवानी ने भी इंटरनेशनल क्रिकेट में, अपने पहले इंटरनेशनल विकेट के तौर पर सचिन तेंदुलकर को आउट किया था। इस मैच में सईद के आंकड़े 7-2-25-1 रहे। श्रीलंका के विरुद्ध अगले मैच में सईद को कोई विकेट नहीं मिला और इसके बाद वे कोई इंटरनेशनल क्रिकेट मैच नहीं खेले। विश्वास कीजिए- वह अकेले ऐसे क्रिकेटर हैं जिसने, तेंदुलकर को अपने एकमात्र इंटरनेशनल विकेट के तौर पर आउट किया।

तेंदुलकर के विकेट ने सईद की जेब तो 1000 डॉलर से भारी कर दी पर सचिन का विकेट उसके इंटरनेशनल करियर का एकमात्र विकेट बना रहा!


Win Big, Make Your Cricket Prediction Now